पाकिस्तान जिस तरीके से आतंकवाद को पनाह देता आया है उसको लेकर अब दुनियाभर में उसकी खूब फजीहत हो रही है. इतना ही नहीं पाकिस्तान में हाफिज सईद जैसे कट्टरपंथी पहले से ही आतंकी संगठन बनाकर अपनी गतिविधियों को अंजाम दे रहे थे लेकिन अब वो पाकिस्तान की राजनीति में घुसना चाहते हैं और एक राजनीतिक पार्टी बनाकर शासन तंत्र में आना चाहते हैं. सोचिये अगर ऐसा हुआ तो पाकिस्तान का कितना भला होगा. फ़िलहाल भारत की मोदी सरकार ने जिस तरीके से पाकिस्तान को बेनकाब किया है उसका फायदा ये हुआ है कि अब अमेरिका भी पाकिस्तान को लेकर सख्त रवैया अपना रहा है और दी जा रही आर्थिक मदद को रोक दिया है.

source

पाकिस्तान हुआ बेनकाब

पाकिस्तान अपनी डूबती नैया को पार लगाने के लिए खूब कोशिशें कर रहा है और आतंकवादी संगठनों पर लगाम लगाने की दिखावटी नौटंकी भी कर रहा है लेकिन इसका कोई खास असर होता नहीं दिखाई दे रहा है. फ़िलहाल पाकिस्तान के लिए एक बुरी खबर अब ये भी आ रही है कि वहां की मीडिया ने भी माना कि पाकिस्तान आतंकवादियों को और उनके संगठन के संचालन के लिए पनाह देते हैं.

पाकिस्तानी मीडिया ने माना कि पाकिस्तान आतंकियों की मदद करता है

दैनिक भास्कर की एक खबर की मुताबिक, पाकिस्तान की मीडिया ने अपने ही देश पाकिस्तान के खिलाफ जहर उगला है. बता दें कि पाकिस्तानी मीडिया ने कहा है कि “पाकिस्तान आतंकियों का मददगार है, उसका हमदर्द है.”

Source

अब जिस तरीके से पाकिस्तानी मीडिया ने खुद अपने ही देश की हरकतों का पर्दाफाश करते हुए स्वीकार किया है कि पाकिस्तान आतंक को बढ़ावा देने में सहयोग करता है वो खुद में पाकिस्तान के लिए बेहद शर्म की बात है.