पाकिस्तान के बुरे दिन शुरू हो गये हैं. चारों तरफ से पाक अपनी नापाक हरकतों की वजह से घिरता जा रहा है. संयुक्त राष्ट्र महासभा में भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाक को आतंकवाद के मुद्दे पर जमकर लताड़ा है. सुषमा स्वराज के बाद अब यूएस के पूर्व सीनेटर लेरी प्रेसलर ने पाकिस्तान पर करार हमला बोला है. अग्रेजी अख़बार को दिए इंटरव्यू में उन्होंने पाकिस्तान पर तीखा हमला बोलते हुए उन्होंने भारत को एक सुझाव दिया है.

Source

उनका कहना है कि भारत और यूएस को एक साथ मिलकर पाकिस्तान के हमले अंदर करने चाहिए और पाक में मौजूद परमाणु हथियारगृहों को नष्ट कर देना चाहिए. उन्होंने अपने इंटरव्यू में आगे कहा है कि डोनाल्ड ट्रम्प भारत के लिए अभी तक के सबसे अच्छे राष्ट्रपति हैं क्योंकि उन्होंने हाल ही में आतंकवादियों को पनाह देने को लेकर पाकिस्तान को नोटिस दिया था.

Source

लेरी ने आगे कहा है कि पेंटागन का प्रोत्साहन पाकिस्तान को बढ़ावा देता है. ट्रम्प को उससे किनारा लेना चाहिए. पाकिस्तान ने भारत को आतंकियों की मां कहा था. लेरी ने ट्रम्प का पेंटागन को दलदल बताना एक अच्छा संकेत है. उन्होंने आगे कहा है कि मुझे उम्मीद है वह जल्दी ही इससे पलायन करेंगे.

Source

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लेरी 3 बार यूएस सीनेटर रहे हैं. 2 बार उन्होंने मेंबर ऑफ़ हाउस का प्रतिनिधित्व किया है. लेरी ने आगे कहा था कि यूएस को पाकिस्तान के लिए आतंकी देश घोषित कर देना चाहिए. इसी के साथ सभी तरफ की आर्थिक मदद भी बंद कर देनी चाहिए. लेरी ने कहा है कि यूएस को भारत पाकिस्तान के साथ एक समान व्यव्हार नहीं करना चाहिए.

Source

बता दें कि उन्होंने कहा है कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है लेकिन पाकिस्तान के साथ ऐसा नहीं है. पाक और आईएसआई दशकों से झूट बोलता आये हैं. उन्होंने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा है कि मोदी सरकार की पाक को लेकर नीतियां कठोर हैं. उन्होंने कहा है अगर अमेरिका पाकिस्तान को मदद देना बंद कर देगा तो वह परमाणु हथियार विकसित नहीं कर पायेगा. लेरी के बयान के बाद अब पाकिस्तान में हडकंप मच गया है. अब पाकिस्तान को लेकर अमेरिका और भारत क्या कदम उठाते हैं ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here