भारत में 30 जून शुक्रवार की रात को जीएसटी लागू होने के बाद भारत दुनियाभर की मीडिया में सुर्खियाँ बटोरता नजर आया l इसके साथ ही देश में तमाम उत्पादकों की बिक्री में उतराव-चढ़ाव प्रभावी रहा l भारत सरकार इसे आजादी के बाद सबसे बड़ा टैक्स रिफार्म बता रही है l पीएम मोदी ने जीएसटी को लेकर आशा जताते हुए कहा है कि आमलोगों के जीवन पर कोई बोझ नहीं पड़ेगा तथा गरीबों को इसका फायदा मिलेगा l रात के ठीक 12 बजे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और पीएम नरेंद्र मोदी ने बटन दबाकर जीएसटी को लागू किया यह देश का अब तक का सबसे बड़ा कर सुधार है l

Source

जीएसटी लागू होने के बाद पाकिस्तानी मीडिया भी अपनी प्रतिक्रिया देने से पीछे नहीं हटा पाक मीडिया द्वारा इसे भारत में दूसरा नोट बंदी जैसा फैसला करार दिया l इसके साथ भारत में नोट बंदी के समय बाजार में मची हलचल को भी याद किया l  द एक्सप्रेस ट्रिब्यून और डॉन में जीएसटी के ऊपर काफी लंबी चौड़ी रिपोर्ट तैयार की थी l

Source

रिपोर्ट्स के अनुसार जीएसटी लागू होने के बाद इंडियन इंडस्ट्री एसोसिएशन जो कि 6500 छोटे उद्यमों का देश भर में समूह बनता है वह इससे कैसे निपटता है l इससे पहले जब लोकसभा में जीएसटी बिल पेश किया गया था तब पाकिस्तानी मीडिया ने इसकी तारीफ की थी l एक न्यूज़ चैनल में बड़े-बड़े विशेषज्ञों को बुलाया गया था उस दौरान विशेषज्ञों और मीडिया कर्मियों ने जीएसटी की तारीफ करते हुए कहा कि ऐसा पाकिस्तान में भी होना चाहिए l

वीडियो: में देखे किस तरह जीएसटी  पर पाकिस्तानी मीडिया ने प्रतिक्रिया दी 

https://youtu.be/OF3EeBespUk

पाकिस्तानी मीडिया ने कहा कि वैसे तो हमें भारत की कई बात बुरी लगती हैं लेकिन जीएसटी लाकर मोदी ने अच्छा काम किया है l यह कम हमें अच्छा लगा है l उन्होंने सारे टैक्स ख़त्म करके देश भर में एक टैक्स लागू किया है l जीएसटी जम्मू-कश्मीर को छोड़कर पूरे देश में लागू हो गया है इसके तहत 20 लाख तक का व्यापार करने वालों को जीएसटी से मुक्ति मिलेगी। साथ ही 75 लाख तक के व्यापारी को जीएसटी में राहत मिलेगी !jjgjg