उत्तर प्रदेश में जब से योगी सरकार बनी है तब से उत्तर प्रदेश में नई नई योजनाओं की शुरुआत हो रही है | इन योजनाओं में जनता का विशेष ध्यान रखा जा रहा है | इस बार योगी सरकार ने नई योजना को बनाने का काम ना करके एक योजना को बंद करने का निर्णय लिया है | ये योजना पिछली सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक थी | इस योजना को बंद करने के पीछे किसी न किसी तरह से राजनीतिक सोच भी लग रही है | जब से उत्तर प्रदेश में योगी सरकार बनी है तब से अखिलेश सरकार की योजनाओं के नाम भी बदले जा रहे है | अखिलेश सरकार की कुछ योजनाओ से समाजवादी नाम भी हटाया जा रहा है |

Source

योगी सरकार लगाएगी अखिलेश सरकार की योजनाओं पर रोक

अब योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश सरकार की एक महत्वपूर्ण योजना को बंद करने का फैसला किया है | अखिलेश की इस योजना में सड़क के किनारे साइकिल ट्रैक बनवाए गए थे | अखिलेश सरकार के लिए ये योजना के जरिए अपनी पार्टी का प्रचार भी करते थे | अब बताया जा रहा है कि अखिलेश सरकार की इस योजना से लोगों को परेशानी हो रही है | अखिलेश सरकार ने यह ट्रैक यूपी के बड़े बड़े शहर जैसे नॉएडा ,कानपूर और लखनऊ में बनवाए थे | यूपी सरकार के शहरी विकास मंत्री सुरेश खन्ना ने बताया कि अखिलेश सरकार की साइकिल ट्रैक योजना से लोगों को काफी दिक्कत हो रही है  |

Source

अखिलेश सरकार के साइकिल ट्रैक पर योगी सरकार की बुरी नजर

उन्होंने बताया कि बरेली से आई खबर में लोगों ने इस इस ट्रैक से यातायात बाधित हो रहा है | इस लिए योगी सरकार ने इन ट्रैक को हटाने की योजना बना रही है |  जब सुरेश खन्ना से पूछा गया कि क्या इसके लिए कोई सर्वेक्षण किया गया है तो उन्होंने बताया कि हम जनता की शिकायतें है उन के आधार पर ऐसा कर रहे है | उन्होंने आगे बताया कि जिन ट्रैक का कोई इस्तमाल नही हो रहा है और जिनकी वजह से लोगों को परेशानी हो रही है | ट्रैक हटाने का काम जल्दी शुरू होगा |

Source

साइकिल ट्रैक बन रहे है अवैध पार्किंग के अड्डे

इसकी शुरुआत बरेली से होगी | जब खन्ना से पूछा गया कि ट्रैक हटाने की योजना लखनऊ में भी है तो उन्होंने बताया कि इसका पूरा काम पीडब्ल्यूडी विभाग देखेगा | अखिलेश सरकार ने इन ट्रैक को इस लिए बनवाया जिससे पर्यावरण प्रदूषण कम होगा और लोगों की सेहत अच्छी रहेगी लेकिन अब देखा जाए तो इन ट्रैक का उपयोग अवैध पार्किंग और ठेले वालों के द्वारा अतिक्रमण करके रखा गया है | बरेली में साइकिल ट्रैक की  लम्बाई 850 मीटर है | जिसकी लागत 6.48 करोड़ आई थी | इसी के साथ लखनऊ और नॉएडा में भी 100 किलोमीटर का साइकिल ट्रैक बनवाया गया था | लखनऊ में बने साइकिल ट्रैक की लागत 31 करोड़ रुपये आई थी | जिसका उद्याटन अखिलेश यादव ने किया था | राज्य में जैसे ही योगी सरकार बनी इस सरकार ने अखिलेश सरकार की योजनाओं की समीक्षा करना शुरू कर दिया | अखिलेश सरकार की समाजवादी एम्बुलेंस योजना और समाजवादी पेंशन योजना से समाजवादी नाम हटा दिया गाय |