भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विदेश दौरों की यात्रा पर गए हुए है | जिस भी दौरे पर मोदी जाते है उनका गर्मजोशी के साथ स्वागत किया जाता हैं | विदेश दौरे पर जाने के कारण भारत की छवि दुनिया में सशक्त भारत के रूप में उभरी है |आज के समय में भारत देश कि छवि फायर ब्रांड वाली बन चुकी हैं | ज्यादातर देश भारत के साथ मिलकर खड़े है भारत देश आज के समय में आतंकवाद, पर्यावरण और ग्लोबल वार्मिंग जैसी समस्यों को दूर करने के लिए सबसे आगे खड़ा रहता हैं |  मोदी की विदेश यात्राओं में इजराइल कि यात्रा सबसे अहम् मानी जा रही है |  पहली बार भारत का प्रधानमंत्री इजराइल दौरे पर है मोदी का यह दौरा तीन दिवसीय है |KJJK

source

मोदी का स्वागत ठीक उसी तरह हुआ है जिस तरह से पॉप और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का हुआ था | इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू ने प्रोटोकॉल तोड़कर भारत के प्रधानमंत्री का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया | इसका असर भारत और इजराइल के राजनैतिक सम्बन्ध पर पड़ेगा | इजराइल के प्रधानमंत्री भी मोदी के इस दौरे से खुश है |

SOURCE

 

इजराइल ओर भारत देश के बीच काफी अहम् समझौते होने वाले है | इजराइल देश के पास ज्यादा अत्याधुनिक हथियार और सुरक्षा प्रणाली सबसे बेहतरीन है | इजराइल की ख़ुफ़िया एजेंसी मोसाद दुनिया की सबसे अच्छी ख़ुफ़िया एजेंसी है | भारत देश ने इससे पहले इजराइल के साथ डिफेन्स के क्षेत्र में कई समझौते किये है | जिसमें बुलेट प्रूफ जैकेट और सैनिकों के लिए बन्दूक शामिल हैं  | लेकिन इसके साथ इजराइल अब भारत को ऐसा तोहफा देने जा रहा हैं जिसके वजह से चीन और पाक दोनों के हाथ पैर फूल जायेगे |

SOURCE

चीन और पाक देश भारत के साथ हमेशा से विश्वासघात करते है और पीठ पीछे धोखा देते है | पाक ओर चीन के साथ भारत सीमा पर हमेशा तनाव बना रहता है जिस वजह से भारतीय सैनिकों को सीमा पर तैनात किया जाता है और देश की जनता को लगता है की युद्ध कभी भी हो सकता है | लेकिन अब भारत को सीमा पर ज्यादा सैनिक तैनात नहीं करने होगे | इसके लिया भारत अब ऐसा हथियार लेकर आ रहा है जिससे भारतीय सीमा पर चौकसी हमेशा बनी रहेंगी |

SOURCE

इजराइल भारत को हेरोन टीपी ड्रोन देने जा रहा है जिसे ड्रोनों का बाप कहा जाता है | हेरोन टीपी ड्रोन एक टन वजन उठाकर 45 हजार फीट की ऊंचाई तक किसी भी मौसम में उड़ान भर सकता है। यह पूरी तरह ऑटोमेटिक है। इसे कंट्रोल रूम में बैठा एक ऑपरेटर भी नियंत्रित कर सकता है। किसी पायलट की जरूरत नहीं पड़ती। यह लगातार 30 घंटे तक उड़ने में सक्षम है | हेरोन टीपी ड्रोन हवा से जमीन पर मार करने वाली मिसाइल से लैस हैं।