इजराइल देश की यात्रा पर पहली बार गए पीएम नरेंद्र मोदी का स्वागत बहुत जोरदार तरीके से हुआ .इसी के साथ जब मोदी के आराम करने की बारी आई तो मोदी को ऐसे स्थान पर ठहराया गया जो दुनिया के सबसे सुरक्षित स्थानों में आता है. इजराइल का किंग डेविड होटल दुनिया में सबसे सुरक्षित माना जाता है. इस होटल के सुईट में पीएम मोदी को ठहराया गया . इस सुईट को धरती पर सबसे सुरक्षित स्थान माना जाता है . इस जगह की खासियत यह है कि जब इस पर बम धमाकों या रासायनिक हमला किया जाएगा तो पीएम का सुईट पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा और यह खुद उससे अलग हो जायेगा .

 

Source

इजराइल ने है धरती का सबसे सुरक्षित स्थान

इस होटल में दुनिया के सबसे ताकतवर देश के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप , जॉर्ज बुश ,बराक ओबामा भी रुक चुके हैं . इस  होटल में इजराइल के ख़ास मेहमाननों के ठहराने की व्यवस्था की जाती है . इस होटल में भारतीय डेलीगेशन के लिए 110 कमरे बुक किये गए . पीएम मोदी के लिए इस होटल में खान पान की ख़ास व्यवस्था की गई . इसी के साथ डेलीगेशन की रुची के अनुसार फूलों को सजाया गया .

 

Source

इजराइल के साथ हुए कई महत्वपूर्ण समझौते

पीएम मोदी ने इजराइल की तीन दिवसीय यात्रा पर कहा कि जो लोग मानवता और सहायता मूल्यों में विशवास रखते हैं ऐसे लोगों को एक साथ आगे आना चाहिए और इनका हर कीमत पर बचाव करना चाहिए. इसी के साथ मोदी ने आतंकवाद पर भी प्रहार करते हुए कहा कि दुनियाभर में आतंकवाद ,हिंसा और कट्टरपंथ जैसी बुराइयों का एक दृढ़ संकल्प के साथ विरोध करने की बात कही . मोदी ने इजराइल के पीएम बेंजामिन के साथ मिलकर साझा प्रेस कॉन्फ्रेंश में कहा कि येद वाशेम स्मारक ,यह कई पीढ़ियों पहले ढहाए गए कहर की याद दिलाता है इसके बाद मोदी ने येद वाशेम स्मारक संग्रहालय में जर्मनी द्वारा मारे गए 60 लाख यहूदियों को पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि दी और कहा यह स्मारक नफ़रत को पराजित करने ,त्रासदी की गहराइयों से ऊपर उठने और एक ऊर्जावान देश के निर्माण के लिए अटूट इच्छाशक्ति के सम्मान का प्रतीक है .

 

Source

इस हथियार से ख़त्म होगा आतंकवाद

भारत के लिए यह दौरा काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. भारत ने इजराइल के साथ आतंकवाद ,साइबर सुरक्षा और व्यापार को लेकर कई महत्वपूर्ण समझौते भी किये है .इजराइल के साथ भारत अपनी सैन्य शक्ति को बढाने के लिए हथियारों की डील कर रहा है .भारत ने अपने इस कदम से पाकिस्तान और चीन चिंता में डाल दिया है . मिली जानकारी के मुताबिक़ भारत इजराइल से हेरोन ड्रोन खरीदने वाला है . इससे सीमा पर हमारी सेना काफी मजबूत हो जायेगी . भारत इजराइल से 10 हेरोन ड्रोन की अहम डील कर सकता है . इस ड्रोन की खासियत यह है कि यह हवा से जमीन पर मार करने वाली मिसाइल से लैस हो सकती है .इस ड्रोन की तुलना अमेरिकी प्रिडेटर और रीपर ड्रोन से की जाती है . इस ड्रोन की यह भी खासियत है कि यह 30 घंटों तक लगातार हवा में उड़ सकती है और ख़ुफ़िया जानकारी को इकठ्ठा कर सकती है. यह आतंकियों के ठिकानों को भी पहचानने की भी क्षमता रखती है .

 
.