चैम्पियंस ट्राफी का भारत-पाकिस्तान के बीच हुआ वो फाइनल मैच शायद ही किसी भारतीय की जहन से कभी निकल पाए| इस मैच में जहाँ लोगों को पाकिस्तान से मिली शिकस्त का गम था तो वहीँ इससे कई गुना बड़ा गम मैच की उस बॉल ने दिया था जब हार्दिक पंड्या और रविन्द्र जडेजा के बीच हुई एक ग़लतफ़हमी का नतीजा ये हुआ कि मैच में अपने अच्छे प्रदर्शन से भारतीय प्रशंसकों को मैच की जीत का आश्वासन दिलाने वाले हार्दिक भी आउट हो गए. वाकई वो पल किसी भी क्रिकेट प्रेमी के लिए झटके या यूँ कहिये सदमे से कम नहीं था. इस तरह से महज़ एक ग़लतफ़हमी के चलते आउट हुए हार्दिक का भी गुस्सा हर भारतीय प्रशंसकों ने देखा और महसूस किया था. hardik

source

कई दिनों तक लोगों के गुस्से का शिकार हुए थे रविन्द्र जडेजा 

यूँ तो टीवी पर मैच देख कर ये कहना उचित नहीं होगा कि आखिरकार गलती किस की थी हाँ लेकिन रन के लिए दौड़ने का ईशारा करना और उसके बाद खुद जगह से टस-से-मस ना होना रविन्द्र जडेजा की एक बड़ी गलती मानी जा रही है. लोग रविन्द्र जडेजा के इस कदम से इतने आहत थे की मैच के बाद भी कई दिनों तक उन्हें देश की जनता के गुस्से का शिकार होना पड़ा था.

source

हालाँकि ऐसे समय में ये बता पाना या समझ पाना कि उस वक़्त हार्दिक पंड्या के दिल में क्या चल रहा था नामुमकिन ही था लेकिन अब हार्दिक पंड्या ने खुद सामने आकर बताया है कि रन आउट के ‘सदमे’ से बाहर आने में कितना वक्त लगा था.

source

खुद पंड्या ने बताया कि क्या हुआ था उस वक़्त जब वो हुए थे रन आउट जिसके बाद…

जाहिर सी बात है कि उस समय अच्छी बल्लेबाजी कर रहे पंड्या इस बात से काफी नाराज थे कि एक ग़लतफ़हमी के चलते वो आउट हो गए थे. ऐसे में अब करीब 20 दिन बाद पंड्या ने पहली बार उस घटना पर अपनी राय रखते हुए हार्दिक पंड्या ने कुछ ऐसी बातें बताई हैं जिसे सुनकर आपको भी नहीं होगा यकीन.  भारतीय ऑलराउंडर पंड्या ने माना है कि फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ रन आउट होने के बाद वह काफी गुस्से में आ गये  थे. उन्होंने हालांकि यह भी कहा कि इसे भुलाने में उन्हें ज्यादा वक्त नहीं लगा.

source

इस मैच में रविंद्र जाडेजा के साथ हुई एक ग़लतफ़हमी के चलते पंड्या को रन आउट होकर पविलियन लौटना पड़ा था। पंड्या ने इस मैच में 76 रनों की पारी खेली थी. भारत को इस मैच में पाकिस्तान से 180 रनों से हार का सामना करना पड़ा था.

उस रन आउट का ज़िक्र करते हुए हार्दिक पंड्या ने बताया कि, “मुझे इससे बाहर आने में काफी समय लगा। सच कहूं तो तीन मिनट लगे। यह क्षणिक था। मुझे बहुत जल्दी गुस्सा आ गया और कुछ पल बाद मैं ड्रेसिंग रूम में हंस रहा था। मुझे देखकर कुछ अन्य खिलाड़ी भी हंसने लगे।”
source

जीतते-जीतते हार गया था भारत

भारत-पाकिस्तान के फाइनल मैच में लग रहा था कि किस्मत पूरी तरह से पाकिस्तान के साथ है जब पाक टीम बैटिंग कर रही थी तब भी और जब गेंदबाज़ी कर रही थी तब भी लेकिन मैच में एक बार ऐसा लगा कि टीम इंडिया का पलड़ा भारी हो गया है जब पंड्या ने पाक गेंदबाजों को मारना शुरू किया तो उम्मीदें बंधने लगी.

गलती से हुए थे रन आउट 

हार्दिक पंड्या अच्छा खेल ही रहे थे कि तभी रविन्द्र जडेजा की एक काल ने उन्हें रन आउट करवा दिया. जिसके बाद पूरी तरह से मैच पाकिस्तान की झोली में चला गया. इसके बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने जडेजा की जमकर क्लास लगा दी उन्हें ऐसी-ऐसी बातें सुनाई कि जडेजा को अपनी गलती का एहसास काफी टाइम तक होता रहेगा.

source

रविन्द्र जडेजा को हार्दिक पंड्या ने भी माना था ज़िम्मेदार

बताते चलें कि इस तरह रन आउट होने के बाद हार्दिक पंड्या का भी गुस्सा निकला था और उन्होंने एक ट्वीट कर ये बात साफ़ कर दी थी कि वो भी इस बात का ज़िम्मेदार रविन्द्र जडेजा को मानते हैं.