अच्छी खासी सैलरी उठा रहे थे आशुतोष जब IBN7 न्यूज़ चैनल में थे लेकिन राजनीति का ऐसा चस्का लगा कि क्रांतिकारी केजरीवाल के साथ चल दिए और आम आदमी पार्टी (आप) ज्वाइन कर ली. अब राजनीति में हैं तो आरोप-प्रत्यारोप तो बनता ही है न भाई, तो वो भी इससे कहां अछूते रहते, इसलिए वो भी आरोप लगाने वाली चारपाई पर सवार हो गये. वैसे आशुतोष को जब भी मौका मिलता है वो केंद्र सरकार से लेकर तमाम विरोधी पार्टियों पर बिना बादल के बरसने लगते हैं. कभी-कभी तो उनका ये खेल तब बिगड़ जाता है जब आम जतना से ही कोई उन्हें ठीक तरीके से समझा देता है.

Source

आशुतोष का ट्वीट:

दरअसल खबर थोड़ी दिलचस्प है, हुआ हूं कि लालू जैसे भ्रष्टाचारियों पर जब सीबीआई ने शिकंजा कसा तो आप आदमी पार्टी के नेताओं को बुरा लगने लगा जिसके चलते आशुतोष ने प्रधानमंत्री मोदी और स्मृति ईरानी से लेकर खट्टर तक की डिग्री देखना चाहते थे और इसलिए वो देश के कई अहम मुद्दों से हटकर डिग्री पर ट्वीट कर बैठे और सवाल कर लिया कि “मोदी जी, स्म्रति ईरानी और खट्टर । भाई ये अपनी डिग्री क्यों छुपाते हैं ? इन पर कोई छापा नहीं पड़ता और इनका मीडिया ट्रायल भी नहीं होता !”

Source  

आशुतोष के ट्वीट पर  करारा जवाब:

अपने ट्विटर के कवर पर कुत्तों की फोटो लगाने वाले आशुतोष ने जब ये ट्वीट किया तो इस पर जो रिप्लाई आये वो उनके होश उड़ाने के लिए काफी है. जब सीबीआई भ्रष्ट लोगों पर कार्रवाई कर रही है तो भ्रष्टाचार के खात्मे के नाम पर राजनीति में आये लोग ही अब भ्रष्टाचारियों का बचाव करने मैदान में कूद पड़े हैं. उधर लालू उनका परिवार परेशान है कि अब उनकी कोई दाल नही गलेगी और इधर उनके जैसे और नेताओं की भी नींद उड़ी कभी न कभी उनपर भी गाज गिरेगी. इसी की खिसियाहट में जब ‘आप’ के नेता आशुतोष ने सभी जरूरी मुद्दों को छोड़कर डिग्री दिखाने की फरमाइश कर दी तो लोगों ने तो उनकी धज्जियां ही उड़ा दी.

Source

डिग्री लेके कौन से झंडे गाड़ दिए

आशुतोष के इस ट्वीट पर पूजा सिंह नाम की एक यूजर ने लिखा कि सड़ जी कालू और छिछोदिया इतना degree -२ क्यूँ करते है डिग्री ले के तुमने झंडे गाड़ दिए करनी तुमको चोरी ही है खाने तुमको जनता के चाटे ही है.” एक यूजर ने तो आशुतोष की फजीहत ही कर दी उसने लिखा कि “ये जनाब दुनिया से भ्रष्टाचार मिटाने आये थे, आज अपनी गैंग के साथ किसी भ्रष्टाचारी को बचाने के लिए दूसरों के8 डिग्रियां चेक कर रहे हैं”

खुद के नेताओं की डिग्री पर चुप हो जाते हैं आप नेता

जीतेन्द्र सिंह तोमर आप पार्टी के ऐसे विधायक हैं जिन पर अपनी शिक्षा के बारे में गलत ब्यौरा देने और फर्जी डिग्री बनवाने का आरोप है l तोमर पर आरोप है कि इन्होने वकालत की फर्जी डिग्री बनवाई है l तोमर पहले कांग्रेस पार्टी में थे, बाद में इन्होने आम आदमी पार्टी ज्वाइन कर ली, और विधायक बने l

फर्जी डिग्री का मामला इतना लम्बा खिंचा कि तोमर ने जिस-जिस जगह से अपनी डिग्री बताई, पुलिस उन्हें गिरफ्तार करके पुष्टि के लिए उन्हें वहां-वहां ले गयी l इस मामलें में केजरीवाल और पार्टी की खूब फजीहत हुई l इस मामलें में विपक्ष हावी रहा, और केजरीवाल जवाब देते फिरते रहे l हालांकि बिहार में स्थित तिलक मांझी भागलपुर यूनिवर्सिटी (टीएमबीयू) ने उनकी एलएलबी की डिग्री रद्द कर दी है. गौरतलब है कि अरविंद केजरीवाल सरकार में कानून मंत्री रहे तोमर को दिल्ली पुलिस ने पिछले साल गिरफ्तार किया था. उनपर आरोप था कि उनकी डिग्री नकली है. जिसके बाद तोमर को मंत्री पद से तब इस्तीफा देना पड़ा था. 2015 में यह मामला मीडिया की नजर में रहा. तोमर फिलहाल में जमानत पर बाहर हैं l