कश्मीर में तीर्थयात्री हर साल शिव जी के दर्शन करने के लिए आते है. इस बार भी शिव भक्तों में एक अलग तरह का जोश और उत्साह है. 10 जुलाई को अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले के बाद कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने इस हमले पर अपना दुःख प्रकट किया है. दुःख प्रकट करते हुए महबूबा मुफ़्ती ने एक बड़ा बयान भी दिया है. मुफ़्ती ने कहा  कि अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों पर हुआ हमला सभी कश्मीरियों और मुस्लिमों पर धब्बा है. हमले के बाद महबूबा मुफ़्ती अनंतनाग के अस्पताल में घयलों से मिलने गईं , वहां पर मुफ़्ती ने इस घटना को लेकर कहा कि इस तरह की घटना से हर कश्मीरी का सिर शर्म से झुक गया है. इस हमले में 7 लोगों की मौत हो गई. मुफ़्ती ने कहा कि मेरे पास इस हमले की निंदा करने के लिए कोई शब्द नहीं है.

Source

अलगाववादी नेताओं ने हमले को लेकर कही ऐसी बात जानकार  होगा आश्चर्य

इसी के साथ उन्होंने कहा कि मुझे आशा है कि जम्मू कश्मीर पुलिस और सुरक्षा बल की टीम जल्दी ही साजिशकर्ताओं को गिरफ्तार करके उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही करेगी. उन्होंने कहा कि हम अपराधियों को सजा दिलाने तक शांत नहीं बैठेंगे. जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री के साथ साथ वहां के अलगाववादी नेताओं ने भी इस आतंकी हमले की कड़ी निंदा की है. इस घटना पर अलगाववादी नेता ने कहा कि यह घटना कश्मीरी संस्कार के खिलाफ है. अलगाववादी नेताओं  सैयद अली गिलानी , मीरवाइज उमर फारुक और यासिन मालिक ने एक संयुक्त बयान में इस हमले में मारे गए लोगों के प्रति शोक व्यक्त किया है. अलगाववादी नेताओं ने कहा कि इस तरह की घटना कश्मीरी परंपरा के बिल्कुल विपरीत है. सदियों से अमरनाथ यात्रा बड़े ही शांतिपूर्ण ढंग से चलती आई है और यह वार्षिक गति का हिस्सा है और रहेगा. इसी के साथ उन्होंने कहा कि शोकसंतप्त परिवारों के लिए अपनी संवेदना प्रकट करते हैं.

Source

पीएम मोदी ने इस हमले को लेकर महबूबा से कहा कुछ ऐसा

10 जुलाई को कश्मीर के अनंतनाग में बाबा अमरनाथ बर्फानी के दर्शन करने गए शिव भक्तों पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया. यह हमला रात को लगभग 8:20 बजे हुआ था. डॉ बाइक सवार आतंकियों ने एक बस पर गोलीबारी करना शुरू कर दिया इस हमले में सात लोगों की मौत हो गई और 19 यात्री घायल हो गए. इस हमले 7 मृतक में 5 महिलाएं है. शिवभक्तों पर हुए इस हमले से पूरे देश में गुस्से का माहौल बना हुआ है. पीएम मोदी ने भी इस हमले की कड़ी निंदा की है और साथ ही जम्मू कश्मीर के राज्यपाल और मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती से बात करने के बाद हरसंभव मदद करने का भरोसा दिया है.

Source

अनंतनाग में हुए आतंकी हमले के बाद केंद्र सरकार हुई सतर्क

इस हमले के बाद केंद्र सरकार भी सतर्क हो गई है. हमले के बाद मंगलवार को गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने एक अहम बैठक बुलाई है. इस बैठक की अध्यक्षता भी राजनाथ सिंह खुद कर रहे है. यह बैठक राजनाथ सिंह के घर पर हो रही है. राजनाथ सिंह के साथ ही इस बैठक में रॉ, आईबी के अधिकारी भी मौजूद हैं. इन सब के साथ NSA अजित डोभाल भी इस बैठक में मौजूद है.

Source

इस बैठक में गृहमंत्री राजनाथ सिंह अधिकारिओं के साथ अमरनाथ यात्रा से जुड़े सुरक्षा के इंतजामों की समीक्षा करेंगे. सुरक्षा एजेंसियां भी इस बात की जांच कर रहीं हैं कि यात्रियों को लेकर जा रही बस पुलिस सुरक्षा बल से कैसे पीछे छूट गई. अमरनाथ यात्रा पर हाई अलर्ट के बाद भी कैसे आतंकवादी हमला करने में कामयाब हो गए.