भारत में इस समय में अगर कोई सबसे बड़ी समस्या है तो वो है आतंकवाद की. आतंकवाद इस समय पूरी तरह से भारत समेत कई देशों में फ़ैल चुका है. जैसा की सभी जानते हैं आतंक की शुरुआत पाकिस्तान से होती है और ज़्यादातर आतंकवादी पाकिस्तान से ही होते हैं. आपको याद होगा कि हाल ही में कश्मीर से एक आतंकवादी पकड़ा गया था जिसका नाम संदीप शर्मा उर्फ़ आदिल बताया गया. हालाँकि हिरासत में लेने के तुरंत बाद ही ये सवाल खड़ा हुआ कि आखिर एक नाम मुस्लिम तो एक हिन्दू कैसे ? खैर इन सब के बीच आदिल उर्फ़ संदीप के परिवार से एक चौंकाने वाला बयान आया है.

source

क्या कहा आदिल के परिवार ने.

पुलिस के हत्थे चढ़ने के तुरंत बाद ही आदिल के परिवार वालों ने ये कह कर उससे रिश्ता तोड़ दिया कि वो आदिल की हरकतों से शर्मिंदा हैं. संदीप के भाई प्रवीण ने एक इंटरव्यू में बताया कि आदिल ने बहुत ही शर्मनाक काम किया है. आगे प्रवीण ने कहा कि सरकार संदीप उर्फ़ आदिल को जो भी सजा देंगे वो हम मानेंगें. अगर आदिल दोषी है तो उसे गोली मार दी जाये. हम इसकी कोई बगावत नहीं करेंगें.

source

सामने आई आदिल के धर्मरुपान्तरण की चौंकाने वाली वजह 

लोगों को संदीप के बारे में ये बात नहीं समझ आ रही थी कि अगर वो संदीप है तो आदिल कैसे? और आदिल है तो उसका नाम संदीप क्यों बताया जा रहा है? तो हम आपको बता दें कि यूपी की एटीएस के सूत्रों  ने इस बात का खुलासा किया है कि संदीप को एक कश्मीरी लड़की से इश्क हो गया था जिसके चलते उसने अपना धर्म बदल लिया और फिर वो संदीप शर्मा बना आदिल जिसके बाद उसने आतंकवाद की राहज चुन ली.

source

SHO अहमद डार की हत्या में भी आदिल का हाथ था

यूँ तो आदिल पर कई आपराधिक मामले दर्ज़ हैं लेकिन उनमे से सबसे बड़ा मामला है कि आदिल 16 जून को एसएचओ फिरोज डार की हत्या में भी शामिल था. बता दें ये अपने आप में पहला ऐसा मामला है जब कोई गैर-कश्मीर युवक लश्कर में शामिल हुआ है. संदिग्ध आतंकी दो पहचान के साथ रहता था. कश्मीर के लिए आदिल था, तो यूपी के लिए संदीप था.

source

कैसे पकड़ा गया संदीप शर्मा उर्फ़ आदिल…

दरअसल कुछ दिन पहले आतंकी बशीर लश्करी को मारा गया था और उसी घर में अब संदीप शर्मा उर्फ़ आदिल छुपा हुआ था.  वहीं से पुलिस ने संदीप शर्मा को पकड़ा था. IGP मुनीर खान के अनुसार संदीप शर्मा को पुलिस  ने अनंतनाग में पकड़ गया है और आगे की कार्यवाही जारी है. IGP मुनीर शर्मा ने यह भी बताया है कि संदीप अपना नाम आदिल भी बताता है यानी वो दो पहचान के साथ रहता था.  जब पुलिस ने बशीर को पकड़ा था तो कुछ और लोगों को हिरासत में लिया गया था जिसमें संदीप शर्मा भी शामिल था, बाद में पता चला संदीप उर्फ़ आदिल कश्मीर का रहने वाला नहीं है तो उसे पूछताछ के लिए रोक लिया गया. पूछताछ में पता चला कि संदीप आतंकियों का साथी है.

source

संदीप शर्मा उर्फ़ आदिल का सबसे बड़ा सच

सवाल काफी गहरा है और जवाब उससे भी ज्यादा गहरा, आपको इस जवाब को समझने के लिए पहले आतंकी संगठन लश्कर के बारे में जानना जरूरी है. दरअसल लश्कर ए तैयबा पूरी तरह से कट्टर मुस्लिम आतंकियों का संगठन है और इस समय मोस्ट वांटेड आतंकी समूह में से एक है. अब बात करें संदीप उर्फ़ आदिल की तो वो  लश्कर से एक मुस्लिम शख्स के जरिये संपर्क में आया था जिसका नाम शूकर बताया गया है, सोचने वाली बात है आखिर एक मुसलमान किसी हिन्दू को आतंकी संगठन में क्यों लेकर जाएगा ? वो भी ऐसा आतंकी संगठन जो कट्टर मुस्लिम आतंकी है ?

source

अब आपको बताते हैं वो सच जो अभी तक किसी ने नहीं बताया है, दरअसल संदीप शर्मा इस आतंकी का असली नाम था जो इसने आतंकियों के संपर्क में आने के बाद बदल लिया था. संदीप शर्मा ने अपना नया नाम आदिल रखा था और मुसलमानों की तरह रहना शुरू कर दिया था, ख़ास बात ये है आदिल अब 5 वक्त की नमाज़ भी पढ़ने लगा था.  इन बातों से साफ़ है आदिल मुसलमान है और संदीप शर्मा उसका पहला नाम है.   संदीप ने नाम के साथ-साथ पूरी तरह से अपना धर्म भी बदल लिया था और मुसलमान बन गया था.