मौका था अमरनाथ में हुए आतंकी हमले का जिसने देश को झकझोर कर रख दिया है. सावन का पहला सोमवार जहाँ शिव के भक्त पूरे ज़ोरों-शोरों से इस यात्रा में जुटा हुए वहीँ इसी आस्था में ख़लल डालने के मंसूबे से आतंकियों ने देर शाम तकरीबन 8 बज कर 20 मिनट के आसपास यात्रियों से भरी  बस पर हमला बोल दिया. अचानक हुए इस हमले में इससे पहले की लोगों को कुछ समझ आता तबतक 7 यात्रियों की मौत हो चुकी थी. हमले के बाद से ही देश में मिली-जुली प्रतिक्रियाएं देखने को मिली. जहाँ कई लोग देश के लिए इस मुश्किल घड़ी में देशवासियों के साथ दिखे तो वहीँ कुछ ऐसे भी थे जिन्हें यहाँ भी राजनीति खेलनी चाही.

source

राजनाथ सिंह ने किया ट्वीट

हमले की जानकारी मिलते ही देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह तक ने ट्वीट किया. लेकिन इसी बीच एक ऐसा वाकया देखने को मिला जब राजनाथ सिंह के इस ट्वीट पर एक लड़की ने आकर ऐसा ट्वीट किया जिसे देखकर आपको भी यकीन नहीं होगा. हालाँकि इस ट्वीट के जवाब में राजनाथ सिंह का जवाब इन-दिनों सोशल मीडिया पर सुर्खियाँ बटोर रहा है.

source

राजनाथ सिंह ने अमरनाथ यात्रा पर हमले की जानकारी मिलते ही उन्होंने ट्वीट किया कि, “अमरनाथ हमला आतंकियों की एक नीच हरकत है। उन्होंने आतंकवादी हमले की कश्मीर के लोगों द्वारा खुल कर निंदा किए जाने की सराहना भी की थी।”

राजनाथ सिंह के इस ट्वीट का लोगों ने अपने-अपने तरीके से जवाब दिया लेकिन इसी बीच एक महिला  शुचि सिंह कालरा जिन्हें ट्रैवलिंग वेबसाइट मेक माय ट्रिप की एडिटर और वेब ब्लॉगर बताया जा रहा है, ने राजनाथ सिंह की ट्वीट का जवाब देते हुए कहा कि, “ऐसे मौके पर कश्मीरियत की चिंता कौन करता है? आपका काम तसल्ली देना नहीं है, इन कायरों (कश्मीरियों) को घसीटकर लाओ और टांग दो।”

शुचि सिंह कालरा का ये ट्वीट हैरान करने वाला था. शुचि सिंह कालरा के इस तरह के भड़काऊ ट्वीट से कई सवाल उठते हैं. कि क्या वाकई इस मामले में हमे कश्मीरियों को सजा देनी चाहिए? क्या कश्मीरियों को सजा देना ही इस समस्या का हल है? शुचि सिंह कालरा ने ये ट्वीट किया तो लोगों को लगा कि अब ना जाने इसपर राजनाथ सिंह क्या ही जवाब देंगे?  ऐसे में इस ट्वीट का जवाब देते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि…

शुचि सिंह का ये ट्वीट वाकई हैरत में डालने वाला था लेकिन इस पर भी राजनाथ सिंह ने बड़ी विनम्रता से जवाब देते हुए कहा कि, “मिस कालरा, मैं निश्चित रूप से कश्मीरियत की चिंता करता हूँ. यह निश्चित तौर पर मेरा काम है कि देश के सभी हिस्सों में शांति स्थापित हो लेकिन मैं आपको बताना चाहूँगा कि सभी कश्मीरी आतंकवादी नहीं होते.”

source

वाकई जहाँ देश में इतनी बड़ी कोई समस्या चल रही हो ऐसे में लोगों को एकजुट रह कर चलना चाहिए तो वहीँ शुचि सिंह जैसे लोग महज़ आग में घी डालने का काम करते हैं.  बताते चलें कि राजनाथ सिंह के इस विनम्र और सूझ-बूझ से दिए गए जवाब की हर जगह तारीफ हो रही है. यहाँ तक कि हमेशा बीजेपी के खिलाफ बोलने वाली पत्रकार राणा अयूब ने भी राजनाथ सिंह के इस ट्वीट का समर्थन करते हुए कहा कि, “आज राजनाथ सिंह मेरे हीरो बन गए हैं.”

source

तो वहीँ कई विपक्षी नेताओं ने भी राजनाथ सिंह के समर्थन में कुछ ऐसी बातें बोली जिसे सुनकर आपको भी हैरानी हो सकती है. राजनाथ सिंह के इस ट्वीट पर प्रशांत भूषण ने लिखा कि “सुषमा स्वराज और राजनाथ सिंह मोदी कैबिनेट में दूसरे स्टेट्समैन के तौर पर उभर रहे हैं. राजनाथ ने ये बयान बिल्कुल परिपक्व और संवेदनशील तरीके से दिया है.” राजनाथ सिंह ने आतंकियों पर कड़ी कार्रवाई की बात भी कही. यही नही 11 जुलाई को हमले के जवाब में आतंकियों को कड़ा जवाब देने के लिए पीएम मोदी, अजित डोभाल के संग तमाम उच्च अधिकारियों के साथ राजनाथ सिंह के घर एक हाईलेवल की मीटिंग हुई जिसमें आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए समीक्षा हुई.

source

कालरा ने कश्मीरियों पर सवाल खड़े करने की कोशिश की तो जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने भी राजनाथ के जवाब की तारीफ कर डाली. सबको पता है उमर अब्दुल्ला बीजेपी के खिलाफ ही बोलते नजर आये हैं लेकिन देश के मान पर चोट करने के बाद राजनाथ सिंह ने जैसा रिप्लाई किया उसके बाद उमर भी खुद को रोक नही पाए तारीफ करने से. उन्होंने लिखा कि “बेहतरीन राजनाथ जी. आपको लेकर मेरे मन में बहुत आदर और प्रशंसा है. मैं आपको सलाम करता हूं. आतंकी घटनाओं से जूझ रहे देश के इस हालात में इस स्टेट्समैनशिप और नेतृत्व के लिए शुक्रिया.”