वैसे तो राजनीति को उस काजल की कोठरी की तरह कहा जाता है जिसके अंदर कितना भी सयाना आदमी जाए, उसपर भी कोई न कोई दाग लग ही जाता है. इसीलिए कई लोग राजनीति में आने के बाद भी उससे दूर चले जाते हैं लेकिन कई बार राजनीति में कुछ ऐसे उदाहरण भी सामने आ जाते हैं जिनको देखकर लोगों को उम्मीद बंधती है कि अब भी नेताओं में कुछ इंसानियत बची है.

source

दरअसल इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ के चुनाव में जीत दर्ज करने के बाद समाजवादी पार्टी के कुछ छात्र नेता मर्यादा की सीमाओं को लांघने लगे तो पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उन्हें तहजीब का पाठ पढ़ाया. आपको बता दें कि इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के पूर्व उपाध्यक्ष और सपा नेता आदिल हमजा ने अखिलेश यादव की मौजूदगी में योगी आदित्यनाथ को अनपढ़ और जाहिल बताया. 

source

सम्मान समारोह के दौरान छात्र नेता द्वारा यूपी के वर्तमान सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग करने पर अखिलेश यादव ने उसको डांट दिया और उसे अपनी बात खत्म करने को कहा. इसके बाद मीडिया से बात करते वक्त अखिलेश यादव ने कहा कि मैं छात्र नेता के शब्द वापस लेता हूँ जिसने सीएम योगी को लेकर अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here