यूपी के  लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे   पर यह दूसरा मौका है जब लड़ाकू विमान उतारे गये हैं, इन विमानों में दुश्मन को मार गिराने की अद्भुद छमता है और यह विमान हर-दम भारत की सुरक्षा में  तैनात रहते हैं. आपको बता दें  लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर आज मिराज-200 और जैगुआर जैसे बेहतरीन प्लेन को उतरा गया  था. चलिए जानते  हैं कि क्यों प्लेन को उतारने   के लिए हाईवे का इस्तेमाल किया जाने लगा ??

source

दरअसल कहा जाता है कि अगर युद्ध के समय एयरबेस को नुक्सान पहुंचा दिया जाता है तो प्लेन को उतारने में बहुत दिक्कत होती है और ऐसे में किसी विकल्प की जरूरत होती है. इसी जरूरत को देखते हुए हाईवे को इस्तेमाल किया जाने लगा है. आपको बता दें सबसे पहले जर्मनी ने हाईवे स्ट्रिप का इस्तेमाल किया था वो भी वर्ल्ड वार 2 के दौरान, आपको बता दें अब कई देशों के पास इस तरह के हाईवे हैं.

source

जब पाकिस्तानी जेट आये आगरा तक.. 

3 दिसम्बर 1971 को पाक के भारतीय वायु सीमा को पार किया था और उनके सैबर जेट्स और स्टार फाइटर्स विमानों ने  भारत के एयरबेस पर हमला करने का प्लान बनाया था लेकिन भारतीय सेना ने उन्हें खदेड़ दिया था और उन्हें   वापस जाने पर मजबूर कर दिया था. भारत   की सेना इस समय पूरे रूद्र रूप में है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here