जानी मानी पत्रकार बरखा दत्त ने एक बार फिर NDTV पर बहुत ही गंभीर आरोप लगाए हैं. लगभग 20 सालों तक NDTV में काम कर चुकी बरखा दत्त ने कहा कि चैनल के मालिकों ने और प्रबंधकों ने ऐसे हालात बना दिए थे कि उन्हें अपनी नौकरी छोड़ने पर मजबूर होना पड़ा.

source

बरखा ने NDTV पर आरोप लगाया कि पहले पहल नेशनल हेराल्ड पर होने वाली खबर को रोक दिया गया था. आपको बता दें नेशनल हेराल्ड वो केस था जिसमें सुब्रमण्यम स्वामी ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया था कि गांधी परिवार हेराल्ड की संपत्तियों का अवैध ढंग से उपयोग कर रहा है. इसके अलावा बरखा दत्त ने ये आरोप भी लगाया कि NDTV ने तसलीमा नसरीन के इंटरव्यू से कुछ पंक्तियों को हटाने के लिए भी कहा था. बरखा बताती हैं कि इन्हीं सब मुद्दों को लेकर वो आवाज़ उठाती थीं जो चैनल वालों को पसंद नहीं आया और इसी वजह से उन्हें चैनल से किनारे किया जा रहा था.

source

NDTV से जुड़ा हालिया विवाद तब शुरू हुआ जब चैनल के मैनेजिंग एडिटर श्रीनिवासन जैन ने जय शाह, जो कि अमित शाह के बेटे हैं, पर उनकी और मानस प्रताप सिंह की एक रिपोर्ट को NDTV की वेबसाइट से हटाए जाने के संबंध में सोशल मीडिया पर लिखा. उन्होंने लिखा कि, ‘NDTV प्रबंधन ने कहा है कि ये रिपोर्ट कानूनी राय लेने के लिए हटवायी गई है.’ जैन ने आगे लिखा कि वो इस घटना को दुःखद अपवाद मानते हैं लेकिन फिलहाल वो NDTV से जुड़कर पत्रकारिता करते रहेंगे.

source

जैन का ये पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो इसके जवाब में पत्रकार बरखा दत्त ने जैन पर तंज कसते हुए कहा कि ये कोई अपवाद नहीं है NDTV में पहले भी कई बार ऐसा हो चुका है. बरखा ने पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के इंटरव्यू का ज़िक्र करते हुए कहा कि, उनके द्वारा लिया गया ये इंटरव्यू भी प्रसारित नहीं किया गया. इसके अलावा उन्होंने ये भी कहा कि पूर्व नौसेना प्रमुख डीके जोशी के इंटरव्यू को भी चैनल की वेबसाइट से हटाया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here