इस समय भारत और चीन के रिश्तों में कडवाहट आ गयी है जिसके कारण भारत और चीन के रिश्ते ठीक नही चल रहे है| चीन लगातार भारत को धमकी दे रहा है और भारत को डराने की कोशिश कर रहा है| चीन भारत को युद्ध की धमकी दे रहा है और लगातार अपने ताकत के बल पर भारत को आँख दिखाता रहता है| लेकिन अब ऐसा नही हो रहा है चीन लगातार धमकी दे रहा है पर भारत न तो डर रहा है और न ही उकसा रहा है मतलब भारत ये दिखाना चाहता है कि उसे चीन की बातों से कोई  परवाह नही है. दरअसल भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर कडवाहट आ गयी है.

Source

भारतीय सेना के जवानों और चीनी सैनिको में कई बार हाथापाई भी हो चुकी है. भारतीय सेना चीनी सैनिको को भारतीय सीमा में घुसने से रोकने के हमेशा तैयार रहती है. चीनी सेना हमेशा भारत को युद्ध की धमकी दे रहा है दरअसल भारत के बढ़ते ताकत को देखकर चीन घबरा गया है इस वजह से चीन भारत को परेशान करना चाहता है वैसे युद्ध लड़ने की हिमाकत अब चीन कभी नही करेगा क्योंकि अधिकतर ताकतवर देश भारत के साथ है और भारत के हौसले बुलंद है| वैसे चीन के रिश्ते अमेरिका से साथ भी कुछ ठीक नही चल रह है| एक सैनिक ने कहा कि अगर हमारे राष्ट्रपति कहें तो चीन पर न्यूक्लियर बम गिरा दूँ|

Source

दरअसल पिछले दिनों दक्षिणी और पूर्वी सागर में क्षेत्र पर चीन और अमेरिका की बढती तनातनी के बीच पेइचिंग ने वॉशिगटन को चेताया था. चीन ने कहा   है कि गैरदोस्ताना खतरनाक सैन्य गतिविधियों को रोक दे. इसी बात पर अमेरिकी कमांडर ने चीन पर न्यूक्लियर बम गिराने की बात  कह दी. यूएस पेसिफिक फ्लीट कमांडर ने गुरूवार को कहा कि वे अगले हफ्ते चीन पर परमाणु हमला करने को तैयार है अगर अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प अगर उन्हें आदेश देते है. अमेरिका आस्ट्रेलिया सेना के प्रमुख युद्धाभ्यास के बाद आस्ट्रेलियाई नेशनल  यूनिवर्सिटी    सुरक्षा सम्मलेन के दौरान  अ  कमांडर आने यहाँ बार कही   है.

Source

कमांडर ने कहा कि अमेरिकी सेना के हर एक सदस्य को यूनाइटेड स्टेट के संबिधान की सभी घरेलु और विदेशी दुश्मनों से रक्षा करने की शपथ दिलाई जाती है  और अधिकारियों एक अमेरिका के राष्ट्रपति का पालन करना हमें बताया जाता है. यह अमेरिकी संबिधान का मूल है. पेसिफिक फ्लीट के प्रवक्ता कैप्टन चार्ली ने बाद में कहा कि स्विफ्ट के उत्तर ने सेना पर नागरिक नियन्त्रण सिद्धांत  की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि एडमिरल सवाल के आधार पर संबोधित नही कर रहे थे वे सेना के नागरिक सिद्धांत को संबोधित कर रहे थे

Source

दरअसल चीन अपनी हरकतों से सभी देशों के नजरों में आ रहा है. चीन लगाबह्ग सभी देशों से सीनाजोरी करता है और युद्ध की दमकी देता रहता है. जैसा कि अब हर कोई समझ गया है कि चीन पाकिस्तान को लगातार सहयोग देता रहता है और वही पाकिस्तान भारत पर लगातार आतंकवादी हमले करवाता रहता है| आपकी जानकारी के लिए बता दे कि चीन की सबसे बड़ा अन्तर्राष्ट्रीय बाजार भारत है| अगर चीन अपनी इन हरकतों से नही सुधरता तो उसे सबक सिखाने के सख्त जरुरत है|