देश में जहाँ एक तरफ गुजरात चुनाव की चहल-पहल साफ़ देखी जा सकती है वहीँ दूसरी तरफ वहीं दूसरी तरफ अभी अभी कांग्रेस को एक बड़ा झटका मिला है. जी हाँ दरअसल मिली जानकारी के अनुसार गुजरात में विधानसभा चुनाव में पाटीदार नेताओं को लेकर राजनीति एक बार फिर तेज हो गई है. बताया जा रहा है कि जहां एक तरफ पाटीदार नेता हार्दिक पटेल और राहुल गांधी की मुलाकात को लेकर अभी सियासत गरमाई हुई है, लोग इस पर तरह-तरह के सवाल दाग रहे हैं वहीं दूसरी तरफ आई एक बड़ी खबर के मुताबिक अब हार्दिक पटेल इस बार का गुजरात विधानसभा चुनाव नहीं लड़ पाएंगे.

source

खबर हैरान कर देने वाली है क्योंकि अबतक तो हार्दिक को लेकर काफी हो हल्ला मचा हुआ था लेकिन अब आई इस खबर ने एक ही झटके में हार्दिक के साथ-साथ कांग्रेस के भी सपनों पर पानी फेर दिया है. बताया जा रहा है कांग्रेस को एक बड़ा झटका देते हुए हार्दिक पटेल समेत 7 अन्य लोगों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी कर दिया गया है. दरअसल ये वारंट हार्दिक पटेल, लालजी पटेल  और अन्य लोगों के खिलाफ गुजरात के मेहसाणा की जिला अदालत ने 2015 में पाटीदार आंदोलन के दौरान भाजपा विधायक ऋषिकेश पटेल के ऑफिस पर हुए हमले के वजह से किया गया है.

source

यहाँ जानकारी के लिए बता दें कि मेहसाणा के जिस विसनगर की अदालत ने हार्दिक के खिलाफ ये गैर-जमानती वारंट जारी किया है, वह साल 2015 में हुए पाटीदार आरक्षण आंदोलन का प्रमुख गढ़ रहा था. बताया जा रहा है कि हार्दिक पटेल के नेतृत्व में हुए इस आंदोलन के दौरान भाजपा विधायक के दफ्तर को अपना निशाना बनाया गया था. ज्ञात हो तो इन्ही सब के बीच चुनाव आयोग ने गुजरात में 9 और 14 दिसंबर को दो चरणों में मतदान कराए जाने की घोषणा भी कर दी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here