एक टीवी शो में ‘दंगल’ एक्ट्रेस फातिमा सना शेख को उनके बिकिनी फोटोशूट पर ट्रोल किए जाने को लेकर बहस चल रही थी. तभी वहां बैठे एक मौलाना ने ऐसा बयान दिया जिसको सुनकर डिबेट की एंकर फाये डिसूज़ा ने मौलाना जी की बोलती बंद कर दी. आपको बता दें कि एक्‍ट्रेस फातिमा सना शेख सोशल मीडिया पर अपने स्विम सूट के फोटो के लिए विवादों में आ गई हैं. फातिमा ने माल्‍टा के बीच के जैसे ही अपने स्विम सूट के फोटो सोशल मीडिया पर पोस्‍ट किए, लोगों ने उन्‍हें ट्रोल करना शुरू कर दिया.

 

एंकर ने उतार दी सारी हेकड़ी :

source

 देखें वीडियो मौलाना ने जब कहा अंडरवियर पहनकर डिबेट में आओ तो…

एक टीवी चैनल की डिबेट में इस मुद्दे पर मौलाना यासूब अब्बास जोर-जोर से ये कहते सुनाई दिए कि ‘आप डिबेट में बैठे हैं. आप बिकिनी में, शेमलैस गाउन में आइए, डिबेट में अंडरवियर पहनकर आइए. ये सुनते ही एंकर ने जो जवाब में कहा ‘‘आपको बता दूं मौलाना जी! आप मुझे मेरे काम की जगह अंडरवियर में आने को बोल रहे हैं.

 

ये वो जगह है जहां मैं काम करती हूं. ये मेरा मंदिर है. आप औरत और आदमी को बराबर करने के लिए अंडरवियर पहनके आने को कह रहे हैं. आप मेरे पैनल का धैर्य खत्म करने बारे में सोच रहे हैं. आप जैसे मैंने बहुत देखे हैं. मैं आप से नहीं डरती.

 

इसके बचाव में मौलाना तर्क देते हैं, ‘आप किस मौलाना को संबोधित कर रही हैं. हम तो मर्दों की बात कर रहे हैं. हम तो मर्दों को कह रहे हैं कि वो अंडरवियर पहनके आएं.’ चलिए मान लेते हैं कि मौलाना जी ने ये बातें एंकर के लिए नहीं बल्कि डिबेट में बैठे पुरुष पैनलिस्ट के लिए कही होंगी. लेकिन ये कहां तक सही है कि एक औरत को क्या करना चाहिए. ये सब आदमी तय करना चाहता है? वो चाहता है जैसा वो कहे, औरतें उससे ज्यादा कुछ न करे. इसके लिए कभी मज़हब की दुहाई दी जाती है. कभी संस्कृति खतरे में पड़ जाती है.

ये थी वो पोस्ट जिसके लिए की गयी थी फातिमा ट्रोल

 

source