कहावत है कि भगवान् के घर देर है अंधेर नहीं वैसा ही राजनीति में भी है. जनता को भी नेताओं और राजनीतिक पार्टियों को समझने में देर हो सकती है लेकिन जब उसे हकीक़त का पता चल जाता है तो वो भी बुरे नेताओं के द्वारा फैलाए गए अंधेर को दूर कर देती है. ऐसा ही कुछ कांग्रेस की वर्तमान सरकार के साथ भी हुआ है धीरे-धीरे भारत में कांग्रेस अपनी पकड़ खोती जा रही है, और भाजपा पकड़ मजबूत करती जा रही है.

source

भारत की आज़ादी के बाद से सत्ता में सबसे ज्यादा समय कांग्रेस ने बिताया लेकिन, अब धीरे-धीरे वक्त बदल रहा है और कांग्रेस अपनी साख खोती जा रही है. देश में 50 सालों से भी ज्यादा राज करने वाली पार्टी का भारत के कई राज्यों से सफाया हो गया है. जो कांग्रेस कभी भारत के सभी राज्यों में राज करती थी वो अब केवल कुछ ही राज्यों तक सिमट कर रह गई है. मोदी सरकार के सत्ता में आते ही लगता है जैसे कांग्रेस के बुरे दिन शुरू हो गये हो. लोकसभा चुनाव में मिली बुरी हार के बाद राज्य के चुनावों में भी कांग्रेस को हार का मुंह देखना पड़ा.

source

अब भारतीय जनता पार्टी ने पीएम मोदी और अमित शाह के नेतृत्व में कांग्रेस को अब तक का सबसे बड़ा झटका दे दिया है. भाजपा राज्यसभा में सबसे बड़ी पार्टी बन गई है. ऐसा करके भाजपा ने इतिहास रच दिया है. जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी जैसे नेताओं ने कभी-भी नहीं सोचा होगा कि कांग्रेस एक दिन ऐसी स्थिति में भी आ जाएगी. बीजेपी शासित राज्य मध्य प्रदेश के संपतिया उइके के राज्यसभा का सदस्य बनते ही भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा में अब 58 सांसद हो गए है. संपतिया उइके के राज्यसभा सांसद बनते ही बीजेपी राज्यसभा में सबसे बड़ी पार्टी बन गई है.

source

अब तक राज्यसभा में कांग्रेस ही एकमात्र सबसे बड़ी पार्टी थी. कांग्रेस के राज्यसभा में 57 सांसद हैं. बीजेपी के सबसे बड़ी पार्टी बनने के बावजूद बीजेपी अभी भी राज्यसभा में बहुमत से दूर है. इसी महीने राज्यसभा की सीटों के लिए चुनाव भी होने हैं. गुजरात में राज्यसभा के 3 और पश्चिम बंगाल से 6 सीटें खाली होने वाली हैं. इन सभी सीटों के लिए जल्द ही चुनाव होने वाले हैं.

source

MP के संपतिया उइके मोदी कैबिनेट के मंत्री अनिल दवे की जगह पर राज्यसभा में पहुंचे हैं. आपको बता दें कि उइके निर्विरोध चुनाव जीते हैं. दवे का इस साल मई में देहांत हो गया था. इस बार बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी गुजरात से राज्यसभा का चुनाव लड़ रहे हैं, वहीं कांग्रेस की तरफ से अहमद पटेल भी गुजरात से ही चुनाव लड़ रहे हैं. इन चुनावों में भी भाजपा का ही पलड़ा भारी लग रहा है. पीएम मोदी के नेतृत्व में भाजपा भारत में अपनी पकड़ मजबूत बनाती जा रही है और कांग्रेस को चुनावों में लगातार हार का सामना करना पड़ रहा है. इसको देखते हुए लग रहा है कि गुजरात में भी भाजपा की ही जीत होगी.

source

बीजेपी के लिए तमिलनाडु से भी अच्छी खबर मिल सकती है. तमिलनाडु में सत्ताधारी पार्टी AIADMK भी एनडीए में शामिल हो सकती है. अगर AIADMK बीजेपी के साथ आती है तो उच्च सदन में बीजेपी काफी मजबूत हो जाएगी. AIADMK अभी भी बीजेपी के सदन में विधेयकों को समर्थन देकर बीजेपी की नैया पार कराती है. एआईएडीएमके के की इस समय राज्यसभा में इस 12 सीटें हैं.