लोग मुश्किल में होते हैं तो वो सबसे पहले याद करते हैं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को, और एक आदर्श नेता का फ़र्ज़ निभाते हुए सुषमा स्वराज भी हर उचित प्रयास करती हैं कि वो मदद मांगने वाले इंसान को अच्छे-से-अच्छी मदद दे सकें. ऐसा ही एक वाक्या हाल ही में सामने आया था जहाँ एक परिवार, पाकिस्तानी परिवार ने सुषमा स्वराज से अपने 4 महीने के बच्चे की बिगड़ी हालत के बारे में सुषमा स्वराज को ख़बर देते हुए उनसे उचित इलाज़ की मांग की थी.

सुषमा स्वराज के कान तक ये बात पहुँचने की ही देरी थी कि वो  तुरंत ही इस मासूम को मदद पहुँचाने में लग गाई. पाकिस्तान से विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की मदद से अपने इलाज के लिए एक चार महीने का बच्चा रोहान सिद्दीकी मदद मिलने के बाद भारत आता है और भारत में उसका सफल इलाज भी हो जाता है.

source

..लेकिन ये उस मासूम की ख़राब किस्मत ही कहेंगें कि जिस 4 महीने के रोहान की भारत में सफल हॉर्ट सर्जरी हुई थी वो वापिस अपने मुल्क पाकिस्तान स्वस्थ लौटता तो है लेकिन वहां उसे डिहाइड्रेशन हो जाता है जिसकी वजह से पाकिस्तान में उसकी मौत हो जाती है.

source

बता दें कि जून में रोहान का नोएडा के जेपी हॉस्पिटल में ऑपरेशन हुआ था और इसके बाद रोहान करीब एक महीने तक अस्पताल में भर्ती रहा. रोहान 12 जून को रोहान को हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था और 14 जून को उसका ऑपरेशन हुआ था. सफल ऑपरेशन के एक महीने के बाद अस्पताल ने रोहान को  डिस्चार्ज करने का फैसला लिया जिसके बाद रोहान अपने माँ-बाप के साथ पाकिस्तान पहुँच जाता है.

source

मासूम रोहान सादिक की दुर्भाग्यपूर्ण मौत की खबर उसके पिता कंवल सिद्दीकी ने ट्विटर के जरिए दुनिया तक पहुंचाई. कंवल सिद्दीकी ने रोहान के बारे में ट्वीट कर लिखा कि, “मेरा रोहान बीती रात इस दुनिया से चल बसा. वो दिल की गंभीर बीमारी से लड़ा और जीता भी, लेकिन डिहाइड्रेशन की वजह से आज वह कब्र में है.”

रोहान के पिता ने भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्वीट कर मांगी थी मदद
आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि 32 साल के कंवल सिद्दीकी अपने परिवार के साथ पाकिस्तान के लाहौर में रहते हैं. वह कई समय से अपने मासूम बेटे के इलाज के लिए भारत आने की जद्दोजहद में लगे हुए थे लेकिन वीजा बैन होने की वजह से उन्हें यात्रा की मंजूरी नहीं मिली.

इसके बाद बेटे की बिगड़ती तबियत के चलते उन्होंने भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्वीट कर मदद मांगी थी. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के हस्तक्षेप के बाद रोहान और उसके पैरंट्स को भारत आने के लिए मेडिकल वीजा भी मिल गया था.

बता दें रोहान के इलाज का मामला दोनों देशों के बीच काफी समय के लिए सुर्खियों में रहा था. रोहान के पिता ने भारत में उसके इलाज के लिए वीजा हासिल करने की कोशिश में कई अर्जियां डाली थीं. वीजा नहीं मिलने के कारण कंवल ने ट्विटर पर सुषमा स्वराज से मदद की गुहार लगाई थी. मदद की गुहार के बाद सुषमा स्वाराज ने भी तुरंत कार्रवाई का भरोसा दिया था और रोहान की भारत में सफल सर्जरी भी हुई थी.

https://twitter.com/KenSid2/status/888464940259880960

रोहान का सफल इलाज होने पर उसके पिता ने यह भी कहा था, “आज अगर उनका बेटा स्वस्थ है, उनके बेटे की धड़कने चल रही हैं तो इसकी वजह हैं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज.” लेकिन अफ़सोस सोमवार की रात मासूम रोहान हमेशा के लिए सो गया. वहीं रोहान की मौत की खबर पर बड़ी तादाद में ट्विटर यूजर्स ने भी शोक जताया है.