सोशल मीडिया में आजकल एक ऐप या कहिये एक खेल खूब वायरल हो रहा है. ऐप का नाम है Sarahah ऐप. इस ऐप की खासियत कहिये या नुकसान बस इतना समझ लीजिये कि यहाँ एक बार आपने रजिस्टर कर लिया उसके बाद आप किसी को भी अपनी पहचान बताये कुछ भी ऊल-जलूल पूछ या बता सकते हैं. जब से ये ऐप सोशल मीडिया पर आया है मानो लोगों पर कुछ काला-जादू सा हो गया है. कौन क्या कैसे किस उम्र इन सब बातों से परे लोग सिर्फ दनादन इस ऐप पर ख़ुद का पर्चा बनाने में जुटे हुए हैं.

source

जानिए क्या ख़ास है इस खेल में?

आज के समय में एक कहावत बहु-प्रचिलित है जिसके अनुसार आज के समय में लोग मुखौटों के पीछे छुपे हुए हैं. कोई अपनी असलियत जगजाहिर नहीं करता है. ऐसा ही कुछ है इस खेल में और शायद तभी ये लोगों की ख़ास पसंद बना हुआ है. दरअसल इस खेल में भी आपको यही करना होता है. आप ख़ुद को इस ऐप पर रजिस्टर कीजिये और बस.

source

आप Sarahah पर एक बार रजिस्टर हो जाते हैं या यूँ कहिये एक बार यहाँ अपनी आईडी बना लेते हैं तो उसके बाद आप किसी को भी मुखौटे की आड़ में कुछ भी कह बोल सकते हैं. अच्छा या बुरा आप जो कहना चाहें. किसी को कहीं से पता नहीं चलने वाला कि उसे किसने क्या कहा है.

source

लेकिन इस ऐप की सबसे बड़ी दिक्कत तो ये है कि बीते कुछ दिनों से इसके मैसेज फेसबुक न्यूज फीड पर शो हो रहे हैं और फेसबुक पर तो इसकी मानो बाढ़ सी आ गई है. इस ऐप को सउदी अरब के एक डेवेलपर जैनुल आबेदीन ने बनाया है लेकिन बताया जा रहा है कि इस ऐप के डोमेन को रजिस्टर अमेरिका में किया गया है.

source

यूँ तो लोग इसका ऐप का उपयोग तो धड़ल्ले से कर रहे हैं लेकिन अब इस ऐप को यूज करने के कई संभावित खतरे भी सामने आये हैं जिनके बारे में जानकर आप भी बिना वक़्त गंवाए इस ऐप को तुरंत ही अन-इनस्टॉल कर देंगें.

source

वेबसाइट की डीटेल्स के मुताबिक जिसने इसे रजिस्टर कराया है वो भी अमेरिका का ही है लेकिन अभी इस बात पर फिलहाल शंसय बना हुआ है और यह डोमेन पर भी निर्भर करता है. हाँ लेकिन इस वेबसाइट की प्रमाणिकता पर यह सवाल जरूर खड़े करता है. इस वेबसाइट को डेनवर कोलराडो के एक कंपनी ने रजिस्टर किया है.

source

जान लीजिये इस ऐप से क्या-क्या समस्याएं हो सकती हैं 

इस ऐप की सबसे बड़ी कमी इस ऐप की सबसे बड़ी खासियत ही है. जी हाँ लोगों को ऐप इसलिए ज्यादा अच्छा लग रहा है क्योंकि वो किसी से कुछ भी कह सकते हैं और वो भी अपना नाम छुपा कर, लेकिन हम आपको बता दें कि डेवेलपर अगर चाहे तो वो आपकी डीटेल्स शेयर कर सकता है, क्योंकि यह ऐप किसी ऐसी कंपनी का नहीं जिस पर आप भरोसा कर सकें.

source

दूसरी बड़ी कमी:

इस ऐप पर अगर आपने भी रजिस्टर किया होगा तो आपको भी पता होगा कि इसमें रजिस्टर करने के लिए आपको अपनी ईमेल आईडी देनी होती है और इमेल आईडी, आईपी ऐड्रेस और ब्राउजर की कूकीज के जरिए हैकर्स आपको बड़ी ही आसानी से ट्रेस कर सकते हैं.

source

तीसरी बड़ी ख़ामी:

इस ऐप में साफ़ लिखा है कि आने वाले समय में कोई और फीचर्स आ सकते हैं. हैकर्स इसे हैक करके यूजर्स से फिरौती की मांग कर सकते हैं. आपको बता दें फिरौती इसलिए, क्योंकि यूजर्स किसी को भी मैसेज भेज रहे हैं इनमें अपने दोस्त हैं और वो भड़ास निकाल रहे हैं. अगर पहचान सामने आने की बात हो तो निश्चित तौर पर उन्हें परेशानी होगी, इसलिए हैकर्स के लिए भी यह सॉफ्ट टार्गेट का काम कर सकता है.

source

चौथी बड़ी ख़ामी:

साथ ही हम आपको बता दें कि इस ऐप के जरिये आपकी जानकारी डार्क वेब पर बेची जा सकती है. हैकर्स या इस वेबसाइट का डेवेलपर आपकी जानकारियों को डार्क वेब बेच कर मोटे पैसे कमा सकता है. आपकी ईमेल आईडी और मेटा डेटा किसी विज्ञापन कंपनी को बेचा जा सकता है. इतना ही नहीं हैकर्स आपके पैटर्न को ट्रैक करके इसके जरिए आपके दूसरे अकाउंट में भी सेंध लगाने में भी बड़ी ही आसानी से कामयाब हो सकते हैं.

source

पांचवी बड़ी कमी:

ऐसा भी संभव है कि अगले फीचर के तौर पर इस ऐप के डेवेलपर पहचान जाहिर करने वाला फीचर लॉन्च कर दें. हालाँकि इस ऐप पर फिलहाल रिप्लाई करने का ऑप्शन नहीं है लेकिन आने वाले समय में इसमें ये ऑप्शन ऐड किया जा सकता है.