योगी सरकार ने इस बार 15 अगस्त को यूपी के सभी मदरसों में स्वतंत्रता दिवस मनाने को लेकर एक निर्देश जारी किया है कि “इस बार 15 अगस्त को यूपी के सारे मदरसों में मनाये जाने वाले स्वतंत्रता दिवस और राष्ट्रगान की वीडियो रिकॉर्डिंग हो.” इस बयान के बाद मानों कुछ धर्मगुरुओं पर आसमान ही गिर गया हो. मुस्लिम समुदाय के ठेकदारों ने आवाज उठाई कि उनकी देशभक्ति पर शक किया जा रहा है. कुछ ने कहा कि मदरसों में पहले से ही 15 अगस्त मनाया जाता रहा है और राष्ट्रगान भी होता आया है लेकिन इस तरह से वीडियो रिकॉर्डिंग करके उनपर शक नही किया जाना चाहिए.

source

ऐसे में इस ख़बर के बाद जहाँ उत्तर प्रदेश के एक मौलाना ने कहा है कि मुसलमान मरते दम तक वंदेमातरम नहीं गाएंगें तो वहीँ कानपुर के एक मदरसा संचालक हाशिम अशरफी ने कहा कि हम अपनी सरजमीं की इज्जत तो कर सकते हैं लेकिन उसकी इबादत नहीं कर सकते, इबादत हम सिर्फ अपने अल्लाह की करते हैं.

source

इसी बात के चलते 15 अगस्त के दिन तिरंगा फहराने पर राष्ट्रगान ‘ना’ गाने को लेकर जब जामियातुल इस्लामिया अशरफुल मदारिस नाम के मदरसे के मौलाना साहब से पूछा गया कि आप लोगों ने राष्ट्र गान क्यों नहीं गाया तो उन्होंने अपनी इस बात को साबित करते हुए जो पक्ष रखा है वो इस वक़्त सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

source

अपने जवाब में मौलाना हाशिम अशरफी ने कहा कि, “हम इसलिए राष्ट्रगान नहीं गाते क्योंकि हम मुसलमानों को राष्ट्रगान में सिंधु शब्द से आपत्ति है.” अपनी बात को रखते हुए मौलाना ने आगे कहा कि, “जैसा कि हम सबको ही पता है कि सिंधु पाकिस्तान में है तो फिर इस शब्द को भारत के राष्ट्रगान में क्यों ही रखा गया है?”

source

मौलाना ने इसके बाद कहा कि, “हम मरते दम तक वंदेमातरम भी नहीं कहेंगे. एक सच्चा मुसलमान अपनी सरजमीं की हिफाजत कर सकता है लेकिन उसकी इबादत नहीं. इबादत हम सिर्फ अपने अल्लाह की ही करते हैं.

source

आगे मौलाना कहते हैं कि राष्ट्रगान में सिर्फ हिन्द, गुजरात, मराठा ही क्यों है? बाकी जगहों के नाम क्यों नहीं है? जिस दिन भारतीय सरकार राष्ट्रगान में ये सब बदलाव कर देगी उस दिन से हम राष्ट्रगान ज़रूर गाएंगें.

देखिये वीडियो:  

मौलाना साहब ने राष्ट्रीय गान न गाने की ऐसो दलील दी कि सबकी बोलती बंद होगई आप भी सुनिये और शेयर करें !

Posted by Azamgarh Express on 2017 m. rugpjūtis 16 d.

ऐसे में अब गुजरात से कुछ मुस्लिम युवकों का एक ऐसा वीडियो सामने आया है जिसे देखकर फतवा जारी करने वाले मौलवियों के कलेजे पर सांप लोटना तो तय है.

source

दरअसल गुजरात के वडोदरा में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने राष्ट्रीय गान गाते हुए एक वीडियो रिलीज किया है. बताया जा रहा है कि इस वीडियो को खास स्वतंत्रता दिवस के मौके के लिए बनाया गया है. मुस्लिम मौलवी और मौलानाओं द्वारा गाया ये राष्ट्रगान सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है.

source

दरअसल हाल ही में मुख्यमंत्री द्वारा दिया गया का ये फरमान अब पूरी तरह से मदरसों में लागू हो इसके लिए प्रदेश के सभी मदरसों में 15 अगस्त की वीडियोग्राफी करने के भी आदेश दिये गए थे. हालाँकि यूपी के सीएम के इस तरह के आदेश का देश भर के मुसलमानों ने विरोध भी किया है.

देखिये वीडियो: 

 

ऐसे ही फरमानों और उनकी देशभक्ति पर शक जाहिर करने वालों को गुजरात के मुसलमानों ने अपने इस वीडियो से जवाब देने की कोशिश की है। इस वीडियो में मुस्लिम धर्मगुरू राष्ट्रगान गा रहे हैं। इस वीडियो में नजर आने वाले सारे मौलवी और मुफ्ती अपनी पारंपरिक वेशभूषा में हैं।