हिन्दू धर्म में तीन देवों को सबसे सर्वोच्च बताया गया है. ब्रह्मा, विष्णु और महेश, लेकिन इन तीनों में से ब्रह्मा जी का मंदिर हर जगह देखने को नहीं मिलता . जबकि विष्णु जी, शंकर जी के अलावा हिन्दू धर्म के कई अन्य देवी देवताओं के मंदिर भारत के हर राज्य में और हर गली नुक्कड़ पर मिल जाते हैं वहीँ ब्रह्मा जी का मंदिर आपको केवल ‘राजस्थान के पुष्कर’ में ही देखने को मिलेगा. जी हाँ जिन भी लोगों को भी भगवान् ब्रह्मा के दर्शन करने होते हैं वे लोग दर्शन के लिए सीधा पुष्कर जाते हैं और वहीँ की मान्यता भी है.

source

वहीँ आज यही ब्रह्मा जी का मंदिर इन दिनों खूब चर्चा का विषय बना हुआ है क्योंकि इसे अहमदाबाद के अक्षरधाम मंदिर की तरह करोड़ों रूपए खर्च करके बनाया जा रहा है, लेकिन यही मंदिर एक पहले चर्चा में आया था क्योंकि इस मंदिर में एक गुप्त तहखाना मिला था जिसमें से तिजोरी बरामद हुई है  जिसके खुलते ही लोगों की आँखें खुली की खुली रह गयीं.

आपको बता दें की 2016 में पुष्कर के वेणुगोपाल मंदिर में 170 साल पुराना तहखाना खोला गया था. उस वक्त मंदिर प्रबंधकों व नगर वासियों को उम्मीद थी कि तहखाने में से  मंदिर का छिपा हुआ भारी खजाना निकलेगा लेकिन जब बड़ी मशक्कत के बाद तहखाने से भारी भरकम तिजोरी निकली तो लोगों की आँखें खुली रह गयीं.

जी हाँ दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक जैसे ही इस तिजोरी को खोला गया तो तो वो खाली थी इस तिजोरी में कुछ भी नहीं था. समझ ही नहीं आया रहा था कि जिस भारी भरकम तिजोरी को निकालने के चक्कर में बंद तहखाना में कंप्रेशर के माध्यम से हवा छोड़कर तहखाने से गैस बाहर निकाली गई और फिर करीब चार घंटे तक कंप्रेशर से हवा छोड़ने के बाद यह तिजोरी बरामद हुई उसमें से कुछ निकला क्यों नहीं और आखिर किस वजह से ये तिजोरी सालों से इस तहखाने में पड़ी हुई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here