देश में महिला सुरक्षा की समस्या हमेशा से ही देखने को मिली है. फिर बात करिए चाहे निर्भया मामले की या हाल ही में चंडीगढ़ में हुआ वर्णिका कुंडू का मामला ही ले लीजिये. इन दोनों, और इन जैसे ना जाने कितने ही उदाहरण आपको देखने को मिल जायेंगें जहाँ देर रात अगर लड़की सड़क पर मिल जाये तो उसके साथ अनहोनी हो गयी है. ऐसे में इस बात के चलते समय-समय पर सरकार पर सवाल उठते ही रहते हैं.

source

जब सड़क पर मुंह ढ़ककर आधी रात को निकली किरण बेदी

हाल ही में पुडुचेरी की उप राज्यपाल किरण बेदी को लोगों ने सड़क पर मुंह ढ़ककर स्कूटर पर देखा. ये नज़ारा हैरान करने वाला था. लोगों को भी समझ नहीं आ रहा था कि आखिर किरण बेदी को ऐसा करने की क्या ही ज़रूरत पड़ गयी.

खुद फोटो शेयर कर किरण बेदी ने बताया इस बात का असली कारण  

बताया जा रहा है कि शुक्रवार देर रात किरण बेदी स्कूटर की पिछली सीट पर बैठकर बाहर निकलीं थी. इस दौरान उन्होंने अपनी पहचान छिपाने के लिए अपना चेहरा दुपट्टे से ढंक रखा था. इस बात के पीछे कि वजह बताई जा रही है कि दरअसल वह इस केंद्रशासित प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा का जायजा लेना चाह रही थीं.

शहर में देर रात सुरक्षा जायजा लेने के बाद किरण बेदी ने ट्वीट किया कि, “मैंने खुद महसूस किया कि पुडुचेरी महिलाओं के लिए सुरक्षित है. जी हाँ रात में भी.” हालांकि उन्होंने  कहा कि वह कुछ कदम उठाने का सुझाव देंगी जो महिला सुरक्षा को और ज्यादा मजबूत करने के लिए पुलिस को उठाने की फ़िलहाल जरूरत है.

source

पुडुचेरी की उपराज्यपाल ने लोगों को सलाह दी कि महिलाएं अपनी चिंताओं अपनी परेशानियों से पीसीआर को अवगत कराएं या कोई भी तकलीफ होने पर 100 नंबर पर बेहिचक फोन करें. किरण बेदी के बारे में कहा जाता है कि एक समय में पूर्व आईपीएस अधिकारी रह चुकी किरण बेदी लोगों से मिलने और उनसे संबंधित मुद्दों के समाधान के लिए आम तौर सप्ताह के अंत में दौरा करने आसपास के क्षेत्रों में जाती हैं.

आपको आपकी जानकारी के लिए बता दें कि किरण बेदी देश की पहली महिला आईपीएस रह चुकी हैं. इसके अलावा किरण बेदी सामाजिक कार्यकर्ता और टेनिस खिलाड़ी भी रह चुकी हैं. साल 1972 में किरण बेदी ने भारतीय पुलिस सेवा ज्वाइन किया था और साल 2007 में उन्होंने स्वेच्छा से सेवानिवृति ली थी.

source

इसके अलावा उन्हें सम्मानित मैग्सेसे अवॉर्ड से भी नवाज़ा जा चुका है. दिल्ली पुलिस में रहते हुए उन्होंने इसके खुफिया विभाग के स्पेशल कमिश्नर पद पर भी कार्य किया है. आपको बता दें कि पुडुचेरी देश के 7 केंद्रशासित प्रदेशों में से एक है. वहीं 2016 के मई महीने में किरण बेदी ने उपराज्यपाल पद की शपथ ली थी.