देश में तीन तलाक के उपर जमकर बहस हो रही थी, हो रही है और आगे भी होती रहेगी जबतक इसका कोई सही समाधान नही निकल जाता है. कई सारी मुस्लिम महिलाओं ने इसके खिलाफ आवाज़ उठाई है पर पुरुष इसका जमकर विरोध कर रहे है,इस्लाम का हवाला दे रहे है,धार्मिक मान्यता बता रहे है. लेकिन वहीँ दूसरी तरह महिलायें  इसे अन्याय और अत्याचार बता कर न्याय की मांग कर रही है. इसी मुद्दे पर जब एक पत्रकार ट्वीट किया तो भारत का एक डरा हुआ मुस्लिम युवक जिस तरह सुप्रीम कोर्ट और इस पत्रकार के बारे में ट्वीट किया है उसे देखकर आपका खून खौल जाएगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जब पत्रकार ने “इस हफ़्ते ‘तीन-तलाक़’ पर SC का आदेश आने वाला है. न्याय / महिलाओं की जीत और शरिया की हार तय है. काउंटडाउन शुरू…” ट्वीट किया जिसके बाद एक यूजर जिसका नाम md jamshed इन्होने तो इस एंकर के साथ साथ सुप्रीम कोर्ट के बारे में भी भला बुरा कह गया. हालाँकि पत्रकार के सक्रिय होते ही इन्होने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया लेकिन तबतक इसके ट्वीट का स्क्रीनशॉट लिया जा चुका था.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पत्रकार ने ट्वीट करके बताया कि ये देखिए जमशेद भाई कैसे SC को और मुझे गाली दे रहे हैं…..डरे हुए तो बिलकुल नहीं, डरा ज़रूर रहे हैं. बात तो सही है जिस तरह जिस तरह देश में मुस्लिमो के डरे होने की बात कही जा रही थी या जो लोग यह कह रहे थे कि भारत का मुस्लिम डरा हुआ है. उन्हें इस व्यक्ति का ट्वीट जरूर देखना चाहिए कि किस तरह इसने न की जाने माने पत्रकार बल्कि सुप्रीम कोर्ट का भी अपमान किया है.

अब हमारे देश में कुछ ऐसे भी लोग है जो देश के मुस्लिमों के डरे होने की बात करते है. सिर्फ राजनीति के अलावा इनका और कोई मकसद नही होता. उपराष्ट्रपति पद से रिटायर होने से पहले दिए गये अंतिम इंटरव्यू में हामिद अंसारी ने जब देश के मुसलमानों के डरे होने की बात का जिक्र किया था उसके बाद भी खूब हंगामा मचा था. सोशल मीडिया पर जमशेद को खूब टारगेट किया जा रहा है. न की सिर्फ जमशेद टारगेट हो रहा है बल्कि पूरी कौम को निशाना बनाया जा रहा है.

जमशेद द्वारा इस तरह की अभद्र भाषा का उपयोग करना बेहद निंदनीय है. अपना ट्वीट डिलीट करने के बाद जब जमशेद को एहसास हुआ कि उनका ट्वीटर पर अब बचना मुस्किल होता जा रहा है तो उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया लेकिन तबतक कई सारे लोगों ने इसका स्क्रीनशॉट ले लिया था. सोचने वाली बात है कि आखिर जिस देश के मुसलमानों को डरा हुआ बताया जाता है उस देश का मुसलमान देश के एक जाने माने पत्रकार और देश के सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट के लिए अभद्र भाषा का उपयोग करता है.

वैसे ट्वीटर पर लोगो ने जमशेद नाम के यूजर को खूब लताड़ लगाईं है. इसके खिलाफ में कई सारे ट्वीट आये है और तंज कसते हुए लोगो ने लिखा है कि ये है देश के डरे हुए मुसलमान. सोशल मीडिया पर इसको लेकर काफी विवाद हो रहा है. लोग अपनी अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे है.

जमशेद के इस ट्वीट के बाद लोगों ने उसे टारगेट कर लिया है. एक रुबीना खान के नाम के महिला यूजर ने लिखा कि इन्हें शरिया के अनुसार सजा देनी चाहिए और इनसे पूछिए क्या ये तैयार है? उलटा लटकाकर गर्दन काट देनी चाहिए. लोग रीट्वीट भी खूब कर रहे है. वैसे अब आप भी देख सकते है और वो भी देख सकते है (जो मुसलमानों के डरे होने की वकालत करते है) कि देश का मुसलमान कितना डरा हुआ है.