बाबा राम-रहीम की कोर्ट पेशी 

बाबा राम-रहीम की कोर्ट में पेशी को लेकर मीडिया में चर्चाए तेज हो गयी हैं. पेशी को लेकर भारी मात्रा में पुलिस फ़ोर्स तैनात किया गया है. बाबा को रेप और हत्या के आरोप में अदालत में पेश होना है. आज हम आपको बाबा के आश्रम में मौजूद गुफा के रहस्य से रूबरू करायेंगे. गुफा का हाल किस तरह है जानें..    baba rahim

Source

एक पत्रकार के अनुसार जो वहां पहुंचा 

बाबा के आश्रम में पहुंचने वाले पत्रकार ने बताया कि में उन दिनों मैं 13 दिन तक बाबा के आश्रम में रहा. उन्होंने कहा में किस्मत वाले पत्रकारों में से था जिन्हें बाबा की गुफा में जाने का मौका मिला. उन्होंने बताया कि बहुत कम ही लोगों को इस गुफा में जाने की इजाजत है.

Source

बाबा के इस आश्रम में गुफा से ही शुरुआत करते हैं. करीब 100 एकड़ में फैले बाबा के इस आश्रम के बीचों-बीच कांच और दीवारों से बना एक महल है जिसे बाबा की गुफा कहा जाता है. बाबा की इस गुफा में जाने के लिए 2-3 दरवाजे हैं, लेकिन हम एक ही दरवाजा देख पाये. इस गुफा में तक के रास्ते में सदा कपड़ों और कमांडो शैली में बंदूक लिए लोग नजर रखते हुए मिलेंगे.

Source

जब में यहां पहुंचा तो आश्रम से ठीक पहले मोड़ पर एक शख्स से आश्रम पता पूछा तो उसने वाकी-टॉकी पर बात की. बाद में पता चला कि वह आश्रम में सूचना दे रहा है. यह सब बिल्कुल फ़िल्मी सीन जैसा लग रहा था.

Source

10 मिनट पैदल चलने के बाद हम बाबा की गुफा में पहुंचे. बाबा की गुफा को देखकर ऐसा लग रहा था कि यह भी किसी बड़े राजा-महाराजाओं के महल से कम नहीं है. शानदार सोफा और चमकदार पर्दों वाले हॉल में हमको बिठाया गया. वहीं बातचीत करते हुए पता चलता है कि बाबा की 209 शिष्याए ख़ास तौर पर चुनी जाती हैं. इन शिष्याओं में से कुछ ख़ास को ही इस गुफा में अंदर आने की अनुमति है.

Source

गुफा में प्रवेश करने के लिए बाकायदा पहचान के लिए बायोमीट्रिक सिस्टम है, तभी दरवाजे खुलते हैं. ये शिष्यायें किसी साध्वी महिला की तरह केवल खास गेरुआ या सफेद रंग के कपड़े पहनती हैं और अक्सर इनके बाल खुले रहते हैं. यह शिष्याए बाबा को खाना खिलाना, लोगों से मुलाकात व सुबह शाम स्टेज तक लाने का काम करती हैं.