आज भारत के युवाओं के प्रेरणास्त्रोत कहे जाने वाले शहीद-ए-आजम भगत सिंह का 111वीं जयंती है. भारत के प्रधानमंत्री समेत देश की राजनीति से जुड़े लोगों के अलावा कलाकारों ने भी भगत सिंह को उनकी जयंती के अवसर पर याद किया है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट कर भगत सिंह को नमन किया लेकिन जब कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर भगत सिंह को पीढ़ियों का प्रेरणास्त्रोत बताया तो ट्वीटर पर लोगों ने राहुल गांधी की जमकर खिंचाई कर दी.

Source

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि ‘‘साहसी शहीद भगत सिंह की जयंती पर मैं उन्हें नमन करता हूं. उनकी महानता और उदाहरणीय साहस भारत की पीढ़ियों को प्रेरित करता है.’’इसके अलावा भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह ने  भी ट्वीट कर भगत सिंह को नमन करते हुए लिखा कि  ‘‘मातृभूमि की स्वाधीनता के लिए अपना सर्वस्व अर्पण कर करोड़ों देशवासियों के हृद्य में आजादी की अलख जगाने वाले महान क्रांतिकारी भगत सिंह को नमन.’

कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी अपने ट्वीटर हैंडल पर ट्वीट करते हुए लिखा है कि “भगत सिंह  को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि . उनकी बहादुरी और बलिदान को देश  की पीढ़ियों को पप्रेरित करता रहेगा.” इसके अलावा केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, रसायन, उर्वरक और संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार,  रेत की कलाकृतियां बनाने वाले विश्व प्रसिद्ध कलाकार सुदर्शन पटनायक ने भगत सिंह को याद किया.

राहुल गांधी ने ट्वीट कर भगत को श्रद्धांजलि दे रहे थे लेकिन ट्वीटर यूजर्स ने राहुल गांधी के इस ट्वीट पर खूब रीट्वीट किये.

 

 

 

क्रांतिकारी भगत सिंह को भारतीय स्वतंत्रता आन्दोलन के दौरान महज 23 साल की उम्र में फांसी पर लटका दिया गया था.भगत सिंह को उनके तीन अन्य साथियों को 23 मार्च 1931 में ब्रिटिस सरकार ने फांसी दे दी थी. युवास्था में ही भारत को आजाद कराने के लिए जो भगत सिंह फांसी पर झूल गये थे उनकी आज जयंती है. इस अवसर प्रधानमंत्री समेत और विपक्ष ने भी श्रद्धांजलि दी.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here