गुरमीत राम रहीम को उसके द्वारा किये गए गलत कामों के लिए कोर्ट ने सजा तो सुनाई लेकिन सजा देने के साथ-साथ ऐसी कड़वी बातें भी जज ने राम रहीम को बोलीं जिन्हें सुनकर राम रहीम को अपने काले अतीत की झलक मिल गई होगी और अपनी करतूतों पर शर्म आई होगी. इन बातों को सुनने के बाद राम रहीम को एहसास हो गया होगा कि बुराई कितनी भी कोशिश करे लेकिन वो झुप नहीं सकती और एक दिन गलत कामों से पर्दा उठ ही जाता है.

source

ये भी पढें- अय्याशी करने वाले राम रहीम को जेल में करना होगा यह काम

ये हैं वो बातें जो जज जगदीप सिंह ने राम रहीम को सजा सुनाने से पहले कहीं.

1- “दोषी (गुरमीत राम रहीम) ने एक ‘जंगली जानवर’ की तरह बर्ताव किया और अपनी ‘पवित्र’ महिला अनुयायियों को भी नहीं बख़्शा.”
2- “पीड़िताओं ने राम रहीम को भगवान् जैसा सम्मान दिया, लेकिन गुरमीत ने उनके साथ सबसे गंभीर क़िस्म के अपराध किये.”

source

3- “वह इंसान जिसे मानवता की कोई फ़िक्र नहीं है और जिसके स्वभाव में कोई दया का भाव नहीं है, वह उदारता के लायक नहीं है.”
4- “धार्मिक संस्था के मुखिया बताए जाने वाली शख़्सियतों के द्वारा किये जाने वाले ऐसे आपराधिक कृत्य देश के पवित्र आध्यात्मिक, सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक संस्थानों की छवि बहुत पहले से बर्बाद करते आ रहे हैं.”

source

5- “दोषी (गुरमीत राम रहीम) के कामों से इस प्राचीन भूमि की विरासत को अपूरणीय क्षति हुई है.”
6- “इस प्रकरण के तथ्यों और हालात को ध्यान में रखते हुए कोर्ट को ये लगता है कि अगर दोषी के द्वारा अपनी महिला अनुयायियों का यौन शोषण और उन्हें अंजाम भुगतने की धमकी देने की बात कही गई है तो इसको मद्देनज़र रखते हुए, ऐसा आदमी अदालत की उदारता के क़ाबिल नहीं है.”