जबसे केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल हुआ है और पीयूष गोयल को रेलमंत्री बनाया गया है तभी से रेल मंत्री एक से बढ़कर एक अहम कदम उठा रहे हैं. बता दें कि ट्रेनों में चेकिंग की व्यवस्था को देखते हुए रेलवे ने बड़ा कदम उठाया है. बहुत जल्द मुंबई लोकल ट्रेनों में चेकिंग की तर्ज पर चेकिंग शुरू की जा सकती है. अब टिकट चेकिंग के लिए टीटीई (ट्रेवलिंग टिकट इंस्पेक्टर) की ड्यूटी नहीं लगायी जायेगी.

Source

नईदुनिया के अनुसार अब ट्रेनों में जगह-जगह फ्लाइंग स्क्वॉड के माध्यम से ही चेकिंग की व्यवस्था की जाएगी. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अब ट्रेन के स्लीपर व एसी कोच में बिना कन्फर्म टिकट यात्रा करना बहुत ही महंगा पड़ेगा. ऐसा करने वालों के साथ की जाएगी कड़ी कार्यवाई. इसी के साथ जुर्माना भरने के साथ अगले स्टेशन पर आपको अपनी यात्रा भी खत्म करनी होगी. बता दें कि भारतीय रेलवे ने यह व्यवस्था कुछ स्पेशल ट्रेनों में शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि जल्द ही सभी ट्रेनों में इस व्यवस्था को लागू करने की सरकार तैयारी कर रही है.

Source

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सरकार ने टीटीई की संख्या को कम करने का निर्णय लिया है. इसी के साथ सरकार ने टीटीई  की जो नई भर्ती होने वाली थी उस पर भी रोक लगा दी है. बता दें कि रेलवे के रिजर्वेशन नियम के अनुसार ऑनलाइन टिकट लेने वाले पैसेंजर ट्रेन में सफ़र नहीं कर पाते थे वहीं काउंटर से टिकट लेने वाले यात्रियों को इसमें राहत मिल जाती थी. सरकार इस नियम पर भी रोक लगा सकती है.

Source

बदलाव के फायदे 

अब सरप्राइज चेकिंग की डर की वजह से अब यात्री कन्फर्म टिकट लेकर ही स्लीपर और एसी कोच में बैठेंगे. अब टीटीई से सेटिंग करना बंद होगा. पहले लोग पैसे देकर टीटीई से जुगाड़ कर लेते थे ऐसा अब नहीं होगा. अब हर ट्रेन में टीटीई को शुरू से लास्ट तक सफ़र नहीं करना होगा. बता दें कि अब फ्लाइंग स्क्वॉड या स्पेशल टीम एक से दो स्टेशन के बीच में ही पूरी ट्रेन को चेक कर लिया करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here