2 सितम्बर को बकरीद का त्यौहार मनाया गया. बकरीद पर अक्सर मुसलमान परिवार किसी जानवर की बलि देने को कुर्बानी कहकर जानवरों की हत्या कर इस त्यौहार को मानते हैं. कुछ लोग इसका विरोध करते रहे हैं .इस बार देश के कई मुस्लिम संगठनो ने भी जानवरों की कुर्बानी न देने की अपील की थी. लेकिन इस समय सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है. जिसे देखकर यहाँ पर हिन्दुओं  के उपर हो रहे अत्याचार का अंदाजा लगाना मुश्किल नही है.सोशल मीडिया पर इस समय यह वीडियो खूब वायरल हो रहा है.

Source

मंदिर में ही दी गयी जानवरों की कुर्बानी!

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वीडियो में आप यह साफ़ देख सकते है कि बलि देने वाले जानवरों को एक हिन्दू मंदिर के अन्दर बाँध कर रखा गया है. ख़बरों की मानें तो ईद के दिन इन जानवरों को मंदिर के अंदर ही कुर्बानी भी दी गयी है. यह वीडियो पाकिस्तान का बताया जा रहा है. आपको बता दें कि पाकिस्तान में हिन्दुओं पर अत्याचार होने वाली घटना कोई नई बात नही है.

वीडियो में आप मंदिर में बैठे जानवरों को देख सकते हैं.

पाकिस्तानी अखबार एक्स्प्रेस ट्रिब्यून के न्यूज एडिटन बिलाल फारूक़ी ने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया जिसमें कथित तौर पर कराची के एक मंदिर में ऊंट बैठे दिख रहे हैं. बिलाल ने चंद्र प्रकाश खत्री का वीडियो शेयर करते हुए लिख रहे है कि “कराची एयरपोर्ट के निकट एक हिंदू मंदिर में मुसलमानों ने बलि के जानवर रखे हैं, शर्मनाक!” लेकिन ख़बरों की माने तो मंदिर में हीं इन जानवरों की बलि भी दी गयी है.

इस वीडियो के शेयर किये जाने के बाद तमाम तरह के लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे है.बिलाल फारूकी के ट्वीट पर पाकिस्तान के डॉन न्यूज के पत्रकार अब्दुल्लाह राजपूत ने लिखा है, “ये बहुत ही संवेदनशील मसला है, इससे अल्पसंख्यकों का गुस्सा भड़केगा।”. इस बात में कोई संदेह नही है कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिन्दुओं पर अत्याचार किया जा रहा है लेकिन अगर सच में मंदिर में  इस तरह की शर्मनाक हरकत को अंजाम दिया गया है तो बेहद शर्मनाक है, हिन्दुओं का गुस्सा भडकना लाजमी है.