अबु सलेम जिसे मुंबई ब्लास्ट में अब दोषी करार दिए जाने के बाद उम्रकैद की सजा सुना दी गयी है. बताया जा रहा है कि जिस वक्त कोर्ट में सलेम को सजा सुनाई जा रही थी, उस समय वह मुस्कुरा रहा था. दरअसल, सलेम की मुस्कुराहट के पीछे वह प्रत्यर्पण संधि है, जो उसे सजा-ए-मौत या 25 साल से ज्यादा सजा नहीं होने दे रही है, लेकिन पूरा देश जहाँ अबू सलेम को मिली सजा से खुश है वहीँ इस IAS ने ये कह कर सबको चौंका दिया कि वो अबू सलेम के साथ जेल जाएगा, लेकिन इसके पीछे की वजह जानेंगें तो…

IAS Niyaz Ahmad

मिली जानकारी के अनुसार मध्य प्रदेश के एक वरिष्ठ आईएएस अंडरवर्ल्ड डॉन अबु सलेम के साथ जेल में एक महीना गुजारना चाहते हैं. जब लोगों को इस बात की भनक लगी तो लोगों ने उनके इस फैसले के बाद राज्य की नौकरशाही में तरह-तरह की अटकलें लगायीं लेकिन उन्होंने अब सभी अफवाहों पर विराम लगाते हुए बताया है कि वह सलेम और मोनिका बेदी के लव अफेयर पर किताब लिखना चाहते हैं.

source

मिली जानकारी के अनुसार किताब लिखने की चाह रखने वाले आईएएस अधिकारी का नाम है नियाज अहमद. नियाज गुना के असिस्टेंट डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट हैं. ऐसे में उन्होंने अब नवी मुंबई की तालोजी जेल में बंद अबु सलेम के साथ एक महीना बिताने की परमिशन मांगी है. मिली जानकारी के अनुसार नियाज ने अपनी किताब का नाम भी फाइनल कर लिया है. उनकी किताब का नाम होगा, “लव डिमांड्स ब्लड”. नियाज ने जनरल एडमिनिस्ट्रेशन डिपार्टमेंट (GAD) को एक पत्र के जरिए सलेम के साथ एक महीना गुजारने की अनुमति मांगी है. उनका प्रार्थना पत्र मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भेज दिया गया है.

source

अधिकारियों से जब IAS की इस डिमांड के बारे में सवाल किया गया तो उनका मानना था कि नियाज की यह इच्छा काफी अनोखी है. अधिकारीयों ने कहा कि शायद ही ऐसा पहले किसी नौकरशाह ने किया हो. नियाज अहमद इस बारे में कहते हैं, वह सलेम और मोनिका के रिश्तों के बारे में जानना चाहते हैं. वह जानना चाहते हैं कि क्या सलेम ने मोनिका से सच्चा प्यार किया था.