भारत में पहली हाई स्पीड ट्रेन के लिए जापान के पीएम ने नरेंद मोदी जी के साथ नीव रखी है,आपको बता दें यह ट्रेन मुंबई से अहमदाबाद तक चलेगी और अनुमान अनुसार इसकी अधिकतम स्पीड 350 किलोमीटर होगी. यह ट्रेन मुंबई से अहमदाबाद तक की दूरी मात्र 2 घंटे में पूरी कर देगी. अब जरा सोचिये पीएम मोदी इसकी जगह कोई ऐसी ट्रेन ले आयें जो बुलेट ट्रेन से 4 गुणा तेज़ हो ?

source

दरअसल एक खबर के मुताबिक़ बिरला इंस्टिट्यूट ऑफटेक्नॉलजी एंड साइन्स, पिलानी (BITS) के कुछ छात्र एक ऐसी ट्रेन को लेकर काम कर रहे   हैं जिसकी अधिकतम स्पीड 1200 किलोमीटर तक होगी यानी 2 घंटे का सफ़र मात्र 40 मिनट में पूरा होगा. यह ट्रेन Hydroloop तकनीक से  तैयार की जा रही है जिसकी वजह से इस ट्रेन की स्पीड इतनी होगी.

ज्ञात हो छात्र एक पोंड बना रहे हैं जिसके लिए एक ख़ास तरह की ट्रेन  तैयार की जायेगी. सबसे ख़ास बात यह है कि “Hyperloop India” इस वैक्यूम ट्यूब या पॉड को बनाने के आखिरी मुकाम पर हैं. इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे एक छात्र ने ने कहा “हाइपरलूप एक ट्यूब ट्रेवल तकनीक है। ट्यूब में एक वाहन होता है जो चुम्बकीय शक्ति के कारण हवा में एक ऊंचाई पर तैरते हुए ट्रेवल करता है” अगर बुलेट ट्रेन को हाइपरलूप से बदला जाता है तो पूरे प्रॉजेक्ट की कीमत 40 फीसद तक कम हो जाएगी. इसकी मेंटेनेंस कॉस्ट भी काफी कम हो जाएगी और जमीन का भी कम इस्तेमाल होगा.”