भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश तेज़ी से आगे बढ़ रहा हैl मोदी सरकार को तीन साल पूरे होने वाले हैं, और इतने वक्त में मोदी सरकार ने वो कर दिखाया जो पिछली सरकारें नहीं कर पायी l चाय बेचने वाले एक साधारण से इन्सान से देश के प्रधानमंत्री बनने तक नरेन्द्र मोदी का सफ़र भी बेहद रोचक हैl वैसे तो मोदी जी का जीवन खुली किताब की तरह रहा है, लेकिन अभी भी पीएम मोदी के बारे में ऐसी कई बातें हैं, जिनसे आप अभी भी अनजान हैंl आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं l

इमरजेंसी के दौरान सरदार बने थे मोदी

देश की पहली और एकमात्र महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के शासनकाल में देश भयावह समय से गुजर रहा था। देश में उस दौरान स्वतंत्रता, अभिव्यक्ति और असंतोष की आजादी का अस्तित्व समाप्त हो गया था l

source

विरोधियों के रूप में कई लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया था। पत्रकारिता लोकतंत्र का चौथा स्तंभ था जो उस समय ढह गया थाl उस दौरान नरेन्‍द्र मोदी से लेकर सुब्रामणयम स्‍वामी ने रूप बदलकर खुद को गिरफ्तार होने से बचाया था। 

फैशन नहीं, बल्कि मजबूरी में कटवानी पड़ी थी कुर्ते की बांह

source

आपने मोदी जी की ड्रेसिंग स्टाइल तो देखी ही हैl सलीके और तहज़ीब से पूर्ण उनके पहनावे की चर्चा कहाँ नहीं होती! संघ के वक्त नरेन्द्र मोदी ने कुर्ते की बांह इसलिए छोटी करायी थी, ताकि वे ज्यादा खराब न होl यही वर्तमान में मोदी ब्रांड का कुर्ता बन गया है और देशभर में मशहूर हैl

भारत-पाक युद्ध में खिलाया था सैनिकों को खाना

1965 में भारत-पाक के बीच युद्ध छिड़ा हुआ थाl उस दौरान उन्होंने स्टेशन से गुज़र रहे सैनिकों को चाय पिलाई थीl यहाँ तक कि शिविर में जाकर मोदी जी सैनिकों के खाने के इंतजाम में भी मदद करते थेl

नशा और मांसाहारी से कोसों दूर पीएम

मोदी जी शुद्ध शाकाहारी हैंl आपको जानकार शायद हैरानी हो पर पूरे नवरात्र में केवल पानी पीकर रहते हैंl सिगरेट, शराब को तो कभी उन्होंने हाथ तक नहीं लगाया हैl योग करना और सुबह जल्दी उठाना उनके रूटीन का हिस्सा हैl

हमेशा से रहे ‘डाउन-टू-अर्थ’

source

मोदी जी हमेशा ज़मीन से जुड़े रहे हैंl वे अहमदाबाद संघ मुख्यालय में वहां के सारे छोटे काम करते थे, जैसे साफ़-सफाई, चाय बनाना, यहाँ तक कि वे बुजुर्ग नेताओं के वस्त्र भी धोते थेl वो अपने सारे काम लगन से करते थे, जो आज साफ-साफ़ झलकता है l

लिखने और एक्टिंग का शौक

जब मोदी स्कूल में थे तो वो वहां पर होते नाटकों में भाग लिया करते थेl उन्हें नाटक और रंगमंच का बेहद शौक थाl  पढाई के दौरान उन्हें पढ़ने लिखने का काफी शौक रहा l

source

बेख़ौफ़ और बहादुर

source

आपने प्रधानमंत्री के भाषण सुने ही हैंl उनकी आवाज़ में ही निडरता झलकती हैl आपको बता दें मोदी जी बचपन से ही बेख़ौफ़ रहे हैंl इसका अंदाजा आप इस बात से भी लगा सकते हैं कि एक बार वे घर में पास ही के एक तालाब से घड़ियाल पकड़ लाये थेl हालांकि बाद में माँ के कहने पर वापस उसे तालाब में छोड़ आये थेl

मोदी बनना चाहते थे साधु

बचपन में पीएम साधु-संतों से बड़े प्रभावित हुए थेl बचपन से ही वे साधु बनना चाहते थेl साधु बनने के लिए मोदी ने स्कूल की पढ़ाई करने के बाद घर भी छोड़ा था और इस दौरान वे पश्चिम बंगाल के रामकृष्ण आश्रम के साथ-साथ कई जगहों पर घूमते रहेl

source

फोटोग्राफी का शौक

मोदी जी को फोटोग्राफी का भी बेहद शौक हैl बचपन में उन्हें फोटोग्राफी में दिलचस्पी थीl 

अमेरिका से किया है ‘ये’ कोर्स

आपमें से बहुत कम लोग ये बात जानते होंगे कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अमेरिका से एक कोर्स कर रखा हैl मोदी ने अमेरिका में मैनेजमेंट और पब्लिक रिलेशन से संबंधित तीन महीने का कोर्स किया हैl

source

कुछ भी करने से पहले माँ का आशीर्वाद जरूर लेते हैं 

कोई भी नया काम शुरू करने से पहले मोदी अपनी माँ का आशीर्वाद ज़रूर लेते हैंl चुनाव में मिली जीत के बाद भी मोदी जी घर गए थे, और अपनी माँ से आशीर्वाद लिया थाl

source