जापानी पीएम के साथ मिलकर पीएम मोदी ने इधर देश में पहली बुलेट ट्रेन की नींव क्या रखी देश से लेकर विदेश तक से इस मुद्दे पर प्रतिक्रियाएं आने लगीं. जानकारी के लिए बता दें कि 14 सितम्बर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के पीएम शिंजो आबे ने अहमदाबाद में देश के पहली बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया. माना जा रहा है कि इस प्रकार ये बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट ना सिर्फ लोगों की परेशानियों को काम करेगी बल्कि ये एक कमाल की इन्वेस्टमेंट भी है, देश में परिवर्तन को प्रगति की लहर भी दौड़ेगी.

source

ऐसे में इसी मुद्दे पर पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने भी इसे देश के लिए इस प्रोजेक्ट को एक बड़ा कदम माना, उन्होंने तारीफ में लिखा कि, “क्या बुलेट ट्रेन भी भारतीय रेलवे के लिए वो कर दिखाएगी जो मारुती ने ऑटोमोबाइल सेक्टर के लिए किया? जजमेंट दिये जा रहे हैं पर जब ऐसा हाई टेक इन्फ्रा लोन इतने कम ब्याज पर मिले तो कभी ‘ना’ नहीं कहना चाहिए?” जाहिर है ये कहकर राजदीप सरदेसाई ने कहा कि ये बड़ा कदम एक इन्वेस्टमेंट है और इसमें कोई घाटा फ़िलहाल तो नहीं है.

…लेकिन इसी मुद्दे पर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्लाह ने ज़हर उगलते हुए लिखा कि, “मारुती कार पूरे देश में कोई भी खरीद सकता था न कि सिर्फ एक लोकेशन में अहमदाबाद से मुंबई जाने वाली बुलेट ट्रेन से मेरा क्या फ़ायदा, ये मेरी जिंदगी को भला कैसे बदल देगी? ख़ुद सोचिये उमर अब्दुल्लाह का ये ट्वीट साफ़ दर्शाता है जैसे उन्हें भारत के दूसरे राज्यों से कोई मतलब नहीं, ऐसे में एक यूजर ने उमर अब्दुल्लाह को ऐसा जवाब दिया जिसके बाद वो कुछ बोलने लायक नहीं बचे.

दरअसल एक यूजर ने उनपर सीधा वार करते हुए लिखा कि, “सर आप कश्मीर में पत्थरबाज़ी बंद करवा दीजिये. एक बुलेट ट्रेन जम्मू से श्रीनगर के बीच भी चलवा दी जाएगी क्योंकि ये बता तो सभी जानते हैं कि कश्मीर आज भी पर्यटकों के आकर्षण का मुख्य केंद्र है.”