अर्जन सिंह भारत के पहले ऐसे वायु सेना प्रमुख बने जो चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ की रैंक तक फ्लाइंग कैटेगरी के फाइटर पायलट रहे थे. ज्ञात हो सेना प्रमुख अर्जन सिंह की तबियत काफी दिनों से खराब चल रही थी जिनको देखने के लिए खुद पीएम मोदी गये थे. यह देश के लिए काफी दुखद पल था जब अर्जन सिंह जैसे बहादुर सेना प्रमुख दुनिया छोड़ चले गये. आइये आपको बताते हैं उनकी उस बात के बारे में जिसकी वजह से आज भी उनका नाम और काम दोनों की अमर हैं.

source

60 तरह के प्लेन उड़ा चुके हैं अर्जन सिंह 

आपको जानकर बेहद गर्व होगा कि अर्जन सिंह ने लड़ाकू विमान के साथ-साथ 60 अलग-अलग तरह के प्लेन उड़ाए थे,उनकी दुतीय विश्वयुद्ध में भूमिका भूले नहीं भुलाई जा सकती है. र्जन सिंह ने मौजूदा दौर के नैट और वैमपायर विमानों के साथ-साथ सुपर ट्रांस्पोर्टर विमानों पर भी उड़ान भरी थी.

source

जब पाक कश्मीर को कब्ज़े में लेने ही वाला था तो अर्जन सिंह ने…

बात उन दिनों की है जब ऑपरेशन ग्रैंड स्लैम के दौरान पाकिस्तानी राष्ट्रति और जनरल अयूब खान ने जबरन कश्मीर पर कब्जा करने की योजना बनाई थी.उस समय इन मामलों में जानकारी रखने वालों की माने तो सभी ने पाक के   इस प्लान को काफी कारगर बताया था और लगा भी था कि अब पाकिस्तान कश्मीर पर कब्ज़ा कर लेगा लेकिन फिर आये अर्जन सिंह जिन्होंने पाक   के इरादे मिटटी में मिला दिए.

 

source

रक्षा मंत्रालय से माँगा था एक घनता लेकिन…

अर्जन सिंह के सामने पाक के अमरी टैंक जो अखनूर शहर पर  हमला कर चुके थे उन्हें रोकना सबसे बड़ी चुनौती थी. जब इस हमले  की खबर रक्षा मंत्रालय तक पहुंची तो अर्जन सिंह  सवाल किया  गया कि वो कब तक पाक के इस हमले को हवाई वार कितनी देर में कर सकते हैं ? अर्जन सिंह ने मात्र एक  घनता  माँगा और वादे के  मुताबिक़ उन्होंने एक घंटे से भी कम समय में पाक पर हमला करते हुए उनके इरादे नष्ट  कर दिए. अर्जन सिंह ने पाक के खिलाफ कई अहम लड़ाई जीती हैं आज भी उनका यह काम भूलना नामुमकिन है.