संगीत सोम के ताजमहल पर बयान देने के बाद विवाद कम होने का नाम नहीं ले रहा है. इस बयान को लेकर सियासी हलचलें तेज हो गयी हैं. हमेशा से अपने बयानों को लेकर सुर्ख़ियों में रहने वाले समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान ने बड़ा बयान दे दिया है. उन्होंने कहा है कि ताजमहल के साथ-साथ राष्ट्रपति भवन को भी गिरा देना चाहिए. उनका कहना है कि यह सब गुलामी की याद दिलाता हैं तो इनको गिरा देना चाहिए.

Source

मंगलवार 17 अक्टूबर को मीडिया से बातचीत करते हुए सपा नेता आजम ने यह बात कही है. आजम ने कहा है कि हम लोगों को गुलामी की उन सभी निशानियों को नष्ट कर देना चाहिए. उन्होंने कहा है कि मैंने पहले भी कहा है कि हमें संसद, राष्ट्रपति भवन, कुतुब मिनार, आगरा का यह ताज महल और लाल किला सब नष्ट कर देने चाहिए जो हमें गुलामी की याद दिलाते हैं.

Source

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह विवाद संगीत सोम के बयान देने के बाद शुरू हुआ है. उन्होंने बयान देते हुए अकबर, बाबर और औरंगजेब को गद्दार कहा था. सोम ने बयान में कहा था कि इतिहास को तोड़-मरोड़ कर पेश करके इन लोगों को महापुरुष बताया गया है.

Source

गौरतलब है कि सोम ने कहा था कि अब इतिहास से इनका नाम हटेगा और देश के जो असली महापुरुष थे जैसे शिवाजी, महाराणा प्रताप आदि का इतिहास अब स्कूलों में बच्चों को पढ़ाया जाएगा. उन्होंने आगे अपने बयान में कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर और मथुरा में भगवान श्री कृष्ण का भव्य मंदिर बनेगा, मंदिर के निर्माण को कोई नहीं रोक सकता.