गुजरात और हिमाचल प्रदेश में इस साल के अंत तक विधानसभा चुनाव होनें हैं, जिसमें अभी कुछ दिन पहले तक यह माना जा रहा था कि शायद इस बार दोनों जगाहों पर भारतीय जनता पार्टी को हार का सामना करना पड़ लेकिन ऐसा नहीं है क्योंकि इस बार भी दोनों जगाहों पर लोगों द्वारा भाजपा को ही पहली पसंद के रूप में देखा जा रहा है यानी कि अभी भी लोगों में पीएम मोदी का जलवा कायम है.

SOURCE

आपको बता दें कि ऐसा हम नहीं कह रहे बल्कि ऐसा इंडिया टुडे ग्रुप और एेक्सिस माइ इंडिया द्वारा किए गए एक संयुक्त सर्वे से पता चला है कि जनता अभी भी भाजपा को ही अपनी पहली पसंद मानती है. आपको शायद यकीन न हो लेकिन इस ओपीनियन पोल में गुजरात के तकरीबन 18,243 लोगों ने हिस्सा लिया था जिसके मुताबिक गुजरात से भाजपा को 182 सीटों में से 115 से 125 सीट मिलने की संभावना जताई जा रही है. वहीं कांग्रेस को केवल 57 से 65 सीटें मिलने की संभावना जताई जा रही है.

SOURCE

इस सर्वे में 34 प्रतीषद वोट को हांसिल करते हुए फिर से विजय रुपाणी ही गुजरात के मुख्यमंत्री पद के लिए सबकी पहली पसंद के रूप में देखे जा रहे हैं वहीँ कांग्रेसी नेता शक्ति सिंह गोहिल केवल 19 प्रतीषद वोट को पाते हुए मुख्यमंत्री पद की रेस में दूसरे स्थान पर दिख रहे हैं. इस सर्वे में यह भी मालूम पड़ा है कि इस बार के चुनाव में हार्दिक पटेल अकेले ही चुनाव लड़ रहे हैं, जिसमें वे केवल महज 2 प्रतीषद वोट पा सकते हैं. वहीँ अगर शंकर सिंह वाघेला और आम आदमी पार्टी के साथ अन्य नेताओं को मिला लें तो इनका वोट शेयर 12% होता दिख रहा है.

SOURCE

खैर यह ओपिनियन तो गुजरात की जनता का था आगे देखते हैं कि हिमाचल का ओपिनियन बीजेपी के लिए क्या कहता है. हिमाचल प्रदेश में जब इंडिया टुडे ग्रुप और एेक्सिस माइ इंडिया द्वारा जब सर्वे किया गया तो मालूम पड़ा कि यहाँ के  ओपीनियन पोल में 6,936 लोगों ने हिस्सा लिया था जिसमें से भाजपा को 68 सीटों में से 43 से 47 सीटों पर कब्ज़ा करने का अनुमान लगाया जा रहा है और वहीँ कांग्रेस केवल 21 से 25 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर रहेगी.