8 नवम्बर 2016 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक बड़ा फैसला लेते हुए 500 और 1000 के नोट को बंद करने का एलान कर सनसनी मचा दी थी. मोदी सरकार द्वारा इस कार्रवाई को काले धन के खिलाफ बड़ा कदम माना जा रहा है. अब नोटबंदी को पूरा हुए एक साल होने वाला है. भारतीय जनता पार्टी ने इस उपलक्ष्य में इसे बेहद ख़ास तरीके से मनाने का एलान किया है. आपको बता दें कि कालेधन के खिलाफ उठाये गये इस कदम में लोगों ने बढ़ चढ़ कर सहयोग किया था.

Source

नोटबंदी के एक साल पूरा होने पर भारतीय जनता पार्टी इसे कालाधन विरोधी दिवस के रूप में मनाने जा रही है.इस बात की जानकारी खुद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रेस कांफ्रेस करके दी है. गौरतलब हो कि 8 नवम्बर को ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 12 बजे रात से 1000 और 500 के नोट को प्रतिबंधित करने का एलान किया था. जिसके बाद देश में एक अलग तरह का ही माहौल बन गया था.

Source

आपको बता दें कि 8 नवम्बर को नोटबंदी के एक साल पूरा होने पर भारतीय जनता पार्टी आम लोगों से जनमत इकट्ठा करने के लिए जायेगी. देश के हर कोने में भारतीय जनता पार्टी के नेता जायेंगे.जेटली का कहना है कि नोटबंदी सफल थी और इस तरह के कदम का उठाया जाना जरुरी हो गया था.

Source

आपको बता दें कि जेटली ने कहा कि “कुछ ऐसे राजनीतिक दल है जो पहले सत्ता में थे वो अब नही चाहते थे कि कालेधन के खिलाफ कार्रवाई हो या उसे जब्त किया जाए और कालेधान के खिलाफ कार्रवाई किसी छोटे कदम के जरिये मुमकिन नही था”. जैसा कि हम सब जानते है  कि कालेधन के खिलाफ सरकार द्वारा उठाये गये इस कदम में लोगों ने खूब सहयोग किया था.