सीबीआई ने अपनी जाँच के दौरान रायन स्कूल के ही 11 वीं के छात्र को हिरासत में लिया है. बता दें कि इससे पहले भी सीबीआई इस बच्चे से 4-5 बार पूछताछ कर चुकी है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि सीबीआई बच्चे को जुवेनाइल कोर्ट में पूछताछ के लिए पेश कर उसकी रिमांड की मांग कर सकती है.

source

गौरतलब है कि सीबीआई इस केस को लेकर जल्द ही बड़ा खुलासा कर सकती है. इस छात्र को हिरासत में लेने के बाद हलचल तेज हो गयी हैं. वहीं प्रद्युमन के पिता वरुण ठाकुर का कहना है कि उनका शक सही निकला, उन्होंने कहा था कि यह हत्या कंडक्टर ने नहीं किसी और ने की है. इसी के साथ उन्होंने कहा है कि हमें सीबीआई पर पूरा भरोसा है. उन्होंने कहा है कि सीबीआई जल्द ही उनके बेटे के हत्यारों तक पहुंच जाएगी.

source

..लेकिन क्या यहां आपके दिमाग में ये ख्याल नही आया कि अगर प्रद्युम्न की हत्या कंडक्टर अशोक ने नहीं की थी तो आखिर उसने ये गुनाह कुबूल क्यों किया? आखिर क्यों उसने ये संगीन गुनाह कुबूल कर अपनी हंसती-खेलती ज़िन्दगी पल में उजाड़ दी? आखिर क्यों बिना किसी गुनाह के अशोक ने अपने सिर पर इतना बड़ा गुनाह ले लिया? तो चलिए अब हम आपको बता देते हैं कि आखिर अशोक ने ऐसा क्यों किया? जानकारी के लिए बता दें कि मीडिया में प्रद्युम्न हत्या को लेकर दिए गए अशोक के बयान पर उसके वकील ने कहा कि जबरदस्ती इजेक्शन देकर बयान दिलवाया गया था, जी हाँ याद हो तो खुद अशोक की पत्नी ने भी इस बात की जानकारी दी थी. यहां तक कि एक खबर के अनुसार अशोक से सादे कागज पर दस्तख्त भी ले लिए गए थे, ऐसे में इन्ही सब वजह के चलते उसने दबाव में आकर मीडिया में भी बयान दे दिया था.

ऐसे में अब अपना पक्ष रखते हुए सीबीआई ने कहा है कि अशोक से जबरन  गुनाह कुबूल करवाया गया था. यहाँ तक की आरोपी अशोक के वकील मोहित वर्मा का तो ये तक कहना है कि उसने दबाव में आकर मीडिया में कहा कि उसने प्रद्युम्न की हत्या की थी.

खबर source: अमरउजाला