उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस समय लगातार दौरे कर रहे हैं. अभी हाल ही में केरल में बीजेपी ने अपने कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में जन रक्षा रैली निकाली थी. इसी दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ भी इस यात्रा में शामिल होने के लिए केरल पहुंचे थे. सीएम योगी आदित्यनाथ अपने बयानों को लेकर चर्चा में हमेशा से रहते आये हैं. शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वृंदावन में संत विजय कौशल महाराज के आश्रम में आयोजित एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे थे.

Source

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत और योग गुरु बाबा रामदेव भी मौजूद थे. सीएम योगी ने अपने भाषण के दौरान कहा कि जब तक धर्माचार्यों और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के स्वयंसेवकों का सहयोग है, भारत का कोई बाल भी बांका नहीं कर सकता. उन्होंने कहा है कि उनके लिए हिंदुत्व मुद्दा नहीं, हिंदुत्व जीने की कला है.

Source

कार्यक्रम में सीएम योगी ने आगे कहा कि भारतीय संस्कृति की मूल पहचान भारत का आध्यात्म है. जब हमारे भारत को देश के सबसे बड़े संगठन रूप में आरएसएस का सहयोग मिलता है तो भारत की शक्ति दोगुना हो जाती है. आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने अपने भाषण के दौरान कहा कि सिर्फ भारत माता की जय बोलने से ही भारत की जय नहीं होगी. इसके लिए सभी वैसा आचरण भी करना होगा. उन्होंने अपने भाषण में आगे कहा भारत अब पहले से अधिक सशक्त होकर उभर कर आएगा.

Source

कार्यक्रम में आये योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा कि देश के पीएम मोदी जी नीतियां बना रहे हैं, उन नीतियों को भारत की 125 करोड़ जनता का साथ मिले तो निश्चित तौर पर सभी सपनों को पूरा किया जा सकता है. उन्होंने कहा राम का देश बनाना है तो राम जैसा आचरण भी अपनाना पड़ेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here