भारतीय स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने एक फैसला लिया है जिसे जानकर SBI के ग्राहकों को ख़ुशी मिल सकती है. भारतीय स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने बड़ा फेरबदल करते हुए मिनिमम अकाउंट बैलेंस (MAB) के नियमों को बदल दिया है. इन नियमों को 1 अक्टूबर 2017 से लागू करवाया जाएगा. जिससे SBI के ग्राहकों को राहत मिलेगी.

source

SBI जो नए नियम लेकर आया है उसके अंतर्गत मेट्रो सेंटर्स में मिनिमम अकाउंट बैलेंस की सीमा घटाकर 3 हज़ार कर दी है जोकि पहले 5 हजार रुपए थी. इसके अलावा रुरल सेंटर्स, सेमी-अर्बन और अर्बन सेंटर्स की लिमिट में कोई भी फेरबदल नहीं किया गया है. SBI के इस फैसले से मेट्रो सीटी में रहने वाले ग्राहकों को राहत मिलेगी.

इसके अलावा SBI ने मेट्रो और अर्बन सेंटर्स कैटेगरी में कम से कम बैलेंस न रखने पर लगने वाले चार्ज में भी कटौती कर दी है. अब मिनिमम बैलेंस न रखने पर अर्बन सेंटर्स में 30 रुपए और मेट्रो सेंटर्स में 50 रुपए का चार्ज लिया जाएगा. इसके अलावा रुरल और सेमी-अरबन सेंटर्स में 20 से 40 रूपये के बीच चार्ज लगेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here