मोदीनगर, गाज़ियाबाद

कहते है कि छात्र किसी भी देश का भविष्य होते हैं, और अगर आप बात भारत की करें तो इसके बारे में कहा जाता है कि इस समय भारत में नौजवानों की संख्या काफी ज्यादा है. लेकिन तब क्या हो जब इस देश में छात्र विकास के रास्ते पर नहीं बल्कि नशे में डूबने के लिए गलत नाव की सवारी कर रहे हों. चौंकिए मत ! खबर उत्तर प्रदेश के गाज़ियाबाद से है. बता दें कि गाज़ियाबाद के मोदीनगर में साहब नगर की चेक पोस्ट पुलिस ने कुछ छात्र-छात्राओं को नशे की हालत में रंगे हाथ पकड़ा है. इस खबर के बाद सम्बंधित कॉलेज में हलचल मची हुई है.

सांकेतिक

इस ख़बर के बारे में और जो जानकारी मिली है उसके अनुसार मोदी नगर के रेडियंस अकादमी सीकरीकलां के संचालक भोलेराम शर्मा उस वक्त पुलिस के हत्थे चढ़ गये जब वो अपनी रेडियंस अकादमी और दूसरे अन्य शिक्षण संस्थानों के बच्चों के साथ नशे में धुत पाए गये. पुलिस ने इन सभी छात्र-छात्राओं को और भोलेराम शर्मा को उस वक्त रंगे हाथ गिरफ्तार किया जब ये भोलेराम शर्मा की ट्यूबवेल पर नशीले पदार्थों का सेवन कर रहे थे.

बता दें कि इस गिरफ्तारी में राम मनोहर लोहिया इंस्टिट्यूट और SRM यूनिवर्सिटी के छात्र-छात्राएं भी गिरफ्तार हुए हैं.

सांकेतिक नशीले पदार्थ

खबर के मुताबिक जब पुलिस भोलेराम शर्मा कि ट्यूबवेल पर पहुंची तो रेडियंस अकादमी के संचालक भोलेराम शर्मा नशे में धुत थे और साथ में छात्र-छात्राएं भी नशे में धुत मिले. पुलिस को इन लोगों के पास से नशीले पदार्थ भी मिले हैं, जिसका सेवन ये धड़ल्ले से कर रहे थे.

Source

इस खबर के बाद से स्थानीय इलाके में सनसनी फैली हुई है. लोगों का कहना है कि ऐसे कार्यों से शिक्षा के मंदिर का अपमान होता है, ऐसे लोगों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए.