आखिरकार मोदी सरकार में अमेरिका की क्रेडिट रेटिंग एजेंसी को बदलनी ही पड़ी भारत की रैंकिंग अब भारत…

भारत में जब से मोदी सरकार आई है तब देश में काफी विकास हुआ है. देश में कई कड़े कदम उठाये गए हैं जिसके बारे में पिछली सत्ताधारी पार्टियों ने केवल बात ही की है बाकी उस पर कभी अमल नहीं किया. प्रधानमंत्री मोदी ने देश की अर्थ व्यवस्था को सुधारने के लिए काफी बड़े कदम उठाये जैसे कि नोट्बंदी, GST आदि. पीएम मोदी के इन फैसलों की भले ही कई लोगों ने पहले आलोचना की हो लेकिन बाद वे लोग भी प्रधानमंत्री के काम से खुश होकर उनके पक्ष में आ गए और आज सभी हर हर मोदी का जाप करते हैं क्योंकि सभी को पता है कि वे इतने कड़े कदम कोई अपने लिए नहीं बल्कि देश के विकास के लिए उठाते है और पूरा देश वासी उनका परिवार है जिसको वो दुःख में नहीं देख सकते.

आपको बता दें कि पीएम का जलवा केवल भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी कायम है. जी हाँ इस बात का पता हमें उस वक्त चला जब अमेरिकी सर्वे एजेंसी प्यू के बाद जब क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूड़ीज़ ने भारत को सम्प्रभु देशों की रेटिंग में सुधार करते हुए पाया तो उसे  ‘बीएए2’ कर दिया है. मूडीज द्वारा उठाया गया यह कदम भारत के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी है क्योंकि मूडीज ने 13 वर्ष के बाद भारत की क्रेडिट रेटिंग में सुधार किया है.

वहीँ वर्ष 2004 में मूडीज ने भारत की क्रेडिट रेटिंग में सुधार करते हुए उसे बस ‘बीएए3’ किया था. ये वो रेटिंग होती है जो ‘जंक’ दर्जे से थोड़ी ही ऊपर होती है. खैर अब हमारा देश पीएम मोदी के नेतृत्व में है जिसकी वजह से आज भारत की रेटिंग 13 साल बाद बढ़ी है जिसका असर इस बड़े सुधार के बाद फ़ौरन इस शुक्रवार यानी 17 नवंबर को शेयर बाजार के कारोबार पर भी दिख रहा है. जी हाँ जब से  रेटिंग में सुधार हुआ है तब से शेयर बाजार ने बड़ी बढ़त के साथ शुरुआत की है.

जहाँ पहले सेसेंक्स  400 था वहीँ आज सेसेंक्स ने इतनी ज्यादा छलांग लगा दी की वो 400 से 33,388 तक पहुँच गया है. वहीं निफ्टी भी अच्छा कारोबार कर रहा है. आपको जानकर हैरानी होगी कि शुरुआती घंटे में ही आसीआईसीआई बैंक, टाटा स्टील, सिप्ला, ओएनजीसी शेयर में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, जबकि इन्फोसिस, विप्रो और टीसीएस जैसी कंपनीज के शेयरों में गिरावट देखने को मिल रही है. भारत की सॉवरन क्रेडिट रेटिंग्स को मूडीज ने एक पायदान ऊपर करते हुए स्टेबल आउटलुक देते हुए भारत की रेटिंग ‘Baa2’ कर दी है क्योंकि इससे पहले भारत की रेटिंग ‘Baa3’ थी.

Facebook Comments