चीनी मीडिया ने बांधे भारत की तारीफों के पुल, इस डर के चलते की भारत के बाज़ार की जमकर तारीफ ?

इन दिनों भारत और चीन के बीच का विवाद इतना बढ़ गया है कि कभी भी दोनों देशों के बीच जंग छिड़ सकती है.  दोनों ही देश काफी मजबूत हैं और डोकलाम की सीमा पर टिके हुए हैं. ऐसे में चीन अपने आप को शक्तिशाली दिखाने के लिए लगातार झूठ बोल रहा है और पुराने वीडियो दिखा रहा है. जी हाँ अब लड़ाई 1962 जैसी नहीं है क्योंकि भारत खुद इस समय काफी मजबूत है.

 

source

 

चीनी मीडिया ने की भारत की तारीफ ! 

इस बीच भारत ने चीन की एक डील कैंसिल रकते हुए उसे मुंह की खाने पर मजबूर कर दिया है और चीन को इससे काफी नुक्सान हुआ है. चीन की सरकारी मीडिया शुरू से ही भारत के खिलाफ़ बोलती आई है लेकिन इस बार चीन  की सरकारी मीडिया ने भारत की तारीफों के पुल बांधे हैं और भारत को निवेश के लिए एक बेहतरीन जगह बताया है.

 

source

भारत निवेश के लिए है बेहतरीन जगह ! 

आपको बता दें चीनी मीडिया में लिखे गये एक आर्टिकल के अनुसार भारत निवेश के लिए चीनी निवेशकों की सोच से कई गुना बेहतर जगह है और वहां पर मार्किट काफी बड़ा है. आपको बता दें चीन में लोगों की ये सोच है कि भारत एक गरीब देश है जहां लाइट, पानी जैसी बेसिक व्यवस्था भी नहीं हैं. खैर ये सोच पिछली सरकार के कर्मों के चलते पूरी दुनिया की है लेकिन पीएम मोदी के आने के बाद से यह सोच बदलने लगी है जिसका सबसे बड़ा सबूत ये  चीन का आर्टिकल है.

source

 

आर्टिकल में आगे लिखा है कि..

‘भारत में निवेश की योजना बना रही चीनी कंपनियों को मीडिया के जरिए जानने के अलावा कई और स्रोतों से भारत के बारे में बेहतर समझ बनाने की जरूरत है, जिससे निवेश संबंधी फैसले के लिए ज्यादा मुफीद जानकारी मिल सकेगी  ‘चीन के सरकार की अगुआई वाले मार्केट डिवेलपमेंट मॉडल के मुकाबले भारत की संघीय सरकार फैसले लेने में सुस्त है. हालांकि भारत का डिवेलपमेंट मॉडल इनोवेटिव उद्यमियों के सामने बाजार को बदलकर रख देने की संभावनाएं देता है. घरेलू बाजार में जो कंपनियां बड़ी होकर उभरती हैं वह अंतरराष्ट्रीय बाजार में जाकर प्रतिस्पर्धा कर सकती हैं और देश के आर्थिक विकास की प्रेरक शक्ति बन सकती है’

 

source

भारत में अमीरों की तादात है ज्यादा ! 

आर्टिकल के अनुसार “चीन के लोग भारत के अमीरों की तादाद के बारे में जो सोचते हैं, वह उससे कहीं ज्यादा है.  2017 में प्रकाशित दुनिया के सबसे अमीर लोगों की हुरुन रिपोर्ट का हवाला देते हुए आर्टिकल में लिखा गया है कि भारत में 100 अरबपति हैं जो सुपररिच के मामले में किसी देश से दुनिया में चौथी बड़ी संख्या है”

Facebook Comments