रक्षामंत्री ने सेना को दी है ऐसी छूट कि अब सेना पर पत्थर बरसाने वालों की शामत आ जाएगी!

कश्मीर में सेना पर पत्थर बरसाने की खबर आपने कई बार सुनी होगीl कश्मीर में सेना पर पत्थर बरसाए जाते हैं उस पर देश के कुछ बुद्धजीवी कुछ नही बोलते लेकिन जब सेना पत्थरबाजों को जवाब देती है तो उन्हें बहुत बुरा लगता हैl पत्थरबाजों से निपटने के लिए सेना ने जब पैलेट गन का इस्तेमाल किया तो भी पत्थरबाजों की तरफ से रोने के लिए कई नेता सामने आ गयेl

Source

वैसे पैलेट गन के इस्तेमाल को लेकर जब सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि बहुत जरूरी हो तभी इसका उपयोग किया जाय, जिसके बाद से सेना ने एक नया और कारगर तरीका निकलाl सेना ने अपनी जीप पर के सामने पत्थरबाजों को बांधना शुरू किया तो भी कुछ बुद्धजीवियों को खूब दिक्कत हुई और मानवाधिकार की दुहाई देने लगेl वैसे आपको बता दें कि पत्थरबाजों से निपटने के लिए ये तरीका काफी कारगर है और देश में सराहा भी जा रहा हैl इन सब के बीच रक्षामंत्री अरुण जेटली ने सेना को कुछ ऐसी शक्तियां अथवा ऐसी छूट दे दी है कि अब पत्थरबाजों और सेना के काम में रुकावट डालने वालों की हालत पतली हो जाएगीl

कश्मीर में पथराव करने वालों के खिलाफ कथित रूप से मानव ढाल के तौर पर एक व्यक्ति को जीप के आगे बांधने वाले मेजर को लेकर उठे विवाद के बीच रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार (24 मई) को कहा कि सेना के अधिकारी ‘युद्ध जैसे’ क्षेत्र में निर्णय करने के लिए स्वतंत्र हैंl जेटली ने मेजर लीतुल गोगोई के कदम का विशेष जिक्र किए बिना कहा, ‘‘देखिए, सैन्य समाधान सैन्य अधिकारी मुहैया कराते हैं. युद्ध जैसे क्षेत्र में जब आप हों तो स्थितियों से कैसे निबटा जाए..हमें अपने सैन्य अधिकारियों को निर्णय लेने की अनुमति देनी चाहिए.’’

उन्होंने कहा, ‘‘उन्हें सांसदों से विचार विमर्श करने की आवश्यकता नहीं कि उन्हें इस प्रकार की परिस्थितियों में क्या करना चाहिए.’’ रक्षा मंत्री का यह बयान सेना द्वारा नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तानी चौकियों पर गोलाबारी की बात का खुलासा करने के एक दिन बाद आया है. रक्षा मंत्री जम्मू कश्मीर की स्थिति के बारे में सवालों का जवाब दे रहे थे.

भारतीय थलसेना ने मंगलवार (23 मई) को कहा था कि उसने नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तानी ठिकानों पर ‘‘दंडात्मक गोलाबारी’’ की जिससे ‘‘कुछ नुकसान’’ पहुंचा है. सेना की ओर से यह कार्रवाई उसके दो सैनिकों के सिर काटे जाने के कुछ दिन बाद की गयी है.

Facebook Comments