शिकायकर्ता ने बताया कि यूँ तो एअरपोर्ट पर नमाज़ अदा करने के लिए जगह बनायी गयी है लेकिन वो बीच रास्ते में बैठ गए थे और इससे असुविधा होने पर शिकायत की तो…

78

आपने यक़ीनन कभी न कभी किसी न किसी मुसलमान शख्स को किसी भी सार्वजनिक जगह पर नमाज़ अदा करते हुए ज़रूर ही देखा होगा. कहते हैं ना नमाज़ अल्लाह की इबादत है तो क्या ही जगह देखना.  शायद इसी के चलते सड़कों, ट्रेन, अस्पतालों, हवाई जहाज और अन्य जगहों पर आपने कई लोगों को अल्लाह की नमाज पढ़ते देखा होगा. तरेक फ़तेह हमेशा से ही ऐसे लोगो के खिलाफ आवाज उठाते रहे हैं जो की किसी भी जगह पर नमाज़ अदा करना शुरू कर देते हैं लेकिन सबसे परे बड़ा सवाल यह है की अगर नमाज़ किसी भी जगह पर पढ़ा जा सकता है तो इसके लिए मस्जिदों की क्या आवश्यकता है?

source

ऐसा ही एक वाक्या हाल ही में मुंबई एअरपोर्ट पर देखने को मिला जब एअरपोर्ट पर ही कुछ नमाज़ी एयरपोर्ट पर गैंगवे में – बीच रास्ते पर ही नमाज़ पढ़ने बैठ गए जिससे अन्य यात्रिओं को असुविधा हुई तो उन्होंने इसके खिलाफ आवाज़ उठाई.

source

एअरपोर्ट पर नमाज़ के लिए अलग कमरा मौजूद है

यूँ तो नमाज़ से शायद ही किसी को दिक्कत हो, लेकिन इस तरह में चहलकदमी वाली जगह  पर अगर कोई इस तरह से नमाज़ पढ़ने बैठ जाये तो यकीनन लोगों को परेशानी होगी. यहाँ हम आपको बता दें कि इस मामले की शिकायत करने वालों को इस बात से भी ख़ासी दिक्कत थी कि जब एयरपोर्ट पर नमाज़ के लिए विशेष रूम की व्यवस्था की गयी है तो लोगों ने रस्स्ते पर ही नमाज़ करने का फैसला करके लोगों की परेशानियाँ क्यों बढ़ाई?

source

नमाज़ियों से दूरी बनाकर चलो- CISF जवान

चलिए नमाज़ के लिए अलग कमरा होने के बावजूद सामान्य रास्ते पर नमाज़ अदा करना मानो कम था कि नमाज़ियों की सुरक्षा के लिए तैनात CISF जवानों ने अन्य यात्रिओं को नमाज़ियों से दूर होकर चलने का आदेश दे डाला. अब पानी सिर से ऊपर जाता देख विनीत गोयनका नाम के यात्री ने इस पर आपत्ति उठाई.

source

नमाज़ की इजाज़त दी है तो पूजा की भी दो

शिकायतकर्ता विनीत गोयनका का आरोप है कि वहां पर तैनात सीईएसएफ जवान एचएस रावत ने उनसे बदतमीजी भी की. उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट पर जब नमाज अदा करने के लिए अलग से रूम की व्यवस्था है तो किसी को बीच रास्ते में नमाज़ अदा करने क्यों दे रहे हो? अगर इन्हें अनुमति दे रहे हो तो मुझे भी पूजा की अनुमति दो?  विनीत गोयनका का यह भी आरोप है कि सीआईएसएफ जवान ने उनसे दुर्व्यवहार किया और हिंदुओं के प्रति अपमानजनक टिप्पणी भी की. इसके बाद गोयनका ने एयरपोर्ट पर ही अपनी पत्नी के साथ धरना प्रदर्शन शुरू किया.

source

पत्नी से हुई बदसलूकी तो राजनाथ सिंह को भी लिखा ख़त 

विनीत गोयनका ने आगे बताया कि जब उनकी पत्नी ने एअरपोर्ट पर चल रहे इस पूरे मामले की तस्वीरें/वीडियो लेले चाहे तो जवान ने एक बार फिर बदसलूकी करते हुए उनसे कैमरा छीन लिया. जिसके चलते अब गोयनका ने इसके खिलाफ़ शिकायत केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को भी खत लिखा है. साथ ही सीआईएसएफ के स्थानीय प्रमुख को भी शिकायती आवेदन दिया है. बताते चलें कि अभी तक इस पूरे मामले पर अभी तक सीआईएसएफ का पक्ष सामने नहीं आया है. उन्होंने अभी तक इस पर चुप्पी बनायीं हुई है.

Loading...
Loading...