बच्चे की बस इतनी सी गलती पर टीचर ने कर दी रिकॉर्ड तोड़ पिटाई! देखिए दिल दहला देने वाला वीडियो

677

स्कूल और ट्युशन में बच्चों के साथ किये जाने वाले अभद्रतापूर्ण व्यवहार लगातार सामने आ रहे है. इस तरह के शिक्षकों पर कार्यवाही भी की जाती है लेकिन इस तरह के शिक्षकों पर फर्क पड़ता दिखाई नही दे रहा है. एक के बाद एक घटनाएँ इस तरह की सामने आ ही जाती है जिन्हें देखकर दिल दहल जाता है. आपको बता दें कि बच्चो के साथ अभद्र और क्रूरता से पिटाई अक्सर हमारे सामने आ ही जाती है. अब सोचने वाली बात यह है कि क्या हमारे बच्चे स्कूलों में सुरक्षित है? क्या हम  स्कूलों में बच्चों को टीचर के भरोसे छोड़ सकते हैं? यह सवाल इस लिए उठाया जा रहा है क्यूंकि उत्तर प्रदेश के लखनऊ से एक वीडियो सामने आई है जो मानवता को तार तार कर देती है.

Source

यह भी देखें:पढ़ाई को लेकर बच्ची पर अत्याचार करने वाले वीडियो की सामने आई हैरान कर देने वाली सच्चाई!

2 मिनट 40 थप्पड़

दरअसल लखनऊ के जॉन विनी स्कूल में एक टीचर कक्षा में पढने वाले बच्चो को 2 मिनट  में लगभग 40 थप्पड़ बरसा दिए. बच्चे के स्कूल से घर पहुँचने के बाद गुमसुम उदास बैठा देखकर माँ को शक हुआ जब माँ ने देखा बच्चे का चेहरा सूजा हुआ था . बच्चे से पूछताछ किये जाने पर सारी सच्चाई सामने आई गयी.

Source

सीसीटीवी से सबूत

दरअसल बच्चे ने टीचर को ‘एस मैंम’ नही कहा तो टीचर ने बच्चे की जमकर पिटाई कर दी. यह घटना सीसीटीवी में कैद हो गयी थी. जब परिजनों से स्कूल में शिकायत मिली उसके बाद सीसीटीवी चेक करने के बाद सारी सच्चाई सामने आ गयी. आरोपी टीचर को स्कूल से निकाल दिया गया है. इसके साथ ही परिजनों ने पुलिस में शिकायत भी दर्ज करवा दी है लेकिन बच्चों के साथ इस तरह की भयावह हरकत करने वालों की सोच कैसे बदले जा सकती है?

वीडियो देखकर दिल दहल जाएगा

बच्चे के साथ क्रूरतापूर्ण व्यवहार करने वाली अध्यापिका रेटिका को स्कूल से निकालकर स्कूल प्रशासन अपनी कार्यवाही तो कर दी  लेकिन इस तरह के टीचरों की सोच कैसे बदलें जायेंगे. लगातार इस तरह की घटनाएँ सामने आती रहती है. अभी कुछ दिन पहले एक वीडियो यह कहकर वायरल किया गया था कि किस तरह एक बच्ची को पढ़ाने के के लिए किस हद तक उसे परेशान किया जा रहा है लेकिन उस वीडियो की सच्चाई कुछ और ही निकली.

आखिर बच्चों के साथ पढाई के नाम कब तक अत्याचार किया जाता रहेगा? छोटे-छोटे बच्चों के साथ जानवरों जैसे वयवहार कब तक होता रहेगा? इस तरह के व्यवहार से बच्चों के दिमाग पर कितना गलत असर पड़ सकता है. अगर बच्चे गलत व्यवहार करते है तो उन्हें डराकर, समझाकर उन्हें सिखाना चाहिए या परिजानों को इस बात से अवगत कराना चाहिए.

 

Loading...
Loading...