जानिए आखिर जापानी पीएम के साथ मस्जिद ही क्यों जायेंगें पीएम मोदी?

468

जापान के प्रधानमंत्री 13 सितम्बर को भारत की यात्रा पर आये हैं. ज्ञात हो की कुछ दिनों पहले पीएम मोदी जापान गये थे और वहीं उन्होंने जापानी पीएम को भारत आने का न्यौता दिया था. बताया जा रहा है कि पीएम मोदी और शिंजो अबे के बीच बढ़ती दोस्ती से चीन भी घबराया हुआ है. इस बीच पीएम मोदी शिंजो अबे को भारत में एक ऐसी जगह ले जाने वाली बात सामने आई है जिसके बात भारत के कुछ मुसलमानों को बड़ा झटका लग सकता है.

source

आपको बता दें जानकारी के अनुसार जापान के पीएम का स्वागत पीएम मोदी गुजरात में ही करेंगे और दोनों नेता अहमदाबाद एयरपोर्ट से महात्मा गांधी के साबरमती आश्रम तक सड़क मार्ग से जाएंगे. शिंजो अबे इस यात्रा के दौरान मुंबई से अहमदाबाद चलने वाली मेट्रो की शरुआत करेंगे. अहमदाबाद स्थित हाउस ऑफ मंगलदास गिरधरदास होटल में दोनों  नेता विशेष डिनर करेंगे. इस डिनर में सिर्फ तीन लोग शामिल रहेंगे एक पीएम मोदी दूसरे शिंजो अबे और तीसरी उनकी पत्नी.

source

इस बीच सबसे ख़ास बात यह रहेगी कि पीएम मोदी अपने इस दौरे में शिंजो अबे और उनकी पत्नी को होटल के दूसरी तरफ स्थित 16वीं सदी की सिदी सैय्यद मस्जिद दिखाने भी ले जाएंगे. लोगों के मन में ये सवाल उठा कि आखिर पीएम मोदी मस्जिद ही क्यों जायेंगें तो हम आपको बता दें कि दरअसल यूँ तो भारत में एक से बढ़कर एक मशहूर मस्‍ज‍िदें हैं. ज‍िनमें एक नाम शाही मस्जिद सिदी सैय्यद का नाम भी शामि‍ल है.

source

इस मस्जिद के बारे में बताया जा रहा है कि यह मस्‍ज‍िद है तो बहुत पुरानी लेक‍िन इसकी खूबसूरती की ज‍ितनी तारीफ की जाए कम है. बताया जाता है कि इस मस्जिद का न‍िर्माण 1573 में सुल्तान शम्स-उद-दीन मुजफ्फर शाह तृतीय के शासनकाल में हुआ था. गुजरात के पर्यटन विभाग की वेबसाइट की मुताबिक इस मस्जिद का निर्माण साल 1573 में हुआ था और ये मस्जिद अपने जाली वर्क के लिए मशहूर है जो इंडो इस्लामिक आर्किटेक्चर का हिस्सा है. इस मस्जिद में आठ खिड़कियां है जिसमें पत्थर पर जाली का काम हुआ है.

Loading...
Loading...