प्रद्युम्न की हत्या पर स्कूल के गार्ड ने बताया चौंकाने वाला सच तो देखिये स्कूल ने उनके साथ क्या किया !

6885

रेयान इंटरनेशनल स्कूल में सात साल के मासूम बच्चे की हत्या के मामले ने तूल पकड़ लिया है. मामला इतना संगीन हो चला है कि अब मृत बच्चे के माता-पिता ने भी इस मुद्दे की जांच सीबीआई से कराने की मांग उठाई है. जाहिर है प्रद्युम्न के घरवाले पुलिस और स्कूल की कहानियों पर विश्वास नहीं कर पा रहे और करें भी कैसे? उन्होंने एक ही झटके में अपना मासूम खो दिया और बजाय इसके कि स्कूल इसकी ज़िम्मेदारी ले, स्कूल तो सिर्फ अपनी साख बचाने में नज़र आ रहा है. शुक्रवार 8:45 मिनट पर खबर आती है कि प्रद्युम्न नहीं रहा, जिसके बाद मामला तूल पकड़ लेता है. जल्दबाजी में स्कूल से तीन लोगों की गिरफ़्तारी की जाती है और शाम तक खबर आती है कि कंडक्टर ही दोषी है.

एक कंडक्टर है जो एक मासूम पर गलत नज़र डालता है, उसके साथ गलत करने की कोशिश करता है और नाकाम होने पर उसे मौत की नींद सुला देता है. कहानी यहीं खत्म नहीं हुई. इतने बड़े काण्ड के बावजूद न ही उस कंडक्टर के माथे पर शिकन की एक लकीर नज़र आती है ना आँखों में शर्म, बस नज़रे झुकाए वो ये बात मान लेता है कि, “उस वक़्त मेरी बुद्धि भ्रष्ट हो गयी थी और मैंने बच्चे को दो वार में ही सुला दिया, हमेशा के लिए.” चाहिए तो भी इस बात पर यकीन करने का मन नहीं होता. जानकारी के लिए बता दें प्रद्युम्न की माँ ने भी इस बात को सिरे से ख़ारिज करते हुए पहले ही कह दिया है कि, “स्कूल प्रशासन कंडक्टर को एक मोहरे के रूप में इस्तेमाल कर रहा है. असली दोषी कोई और ही है.”

रायन इंटरनेशनल स्कूल के अंदर ही महज़ कुछ मिनटों में बेहद खौफनाक ढंग से एक सात वर्षीय बच्चे प्रद्युम्न की हत्या के मामले में रोज ही नए और चौंका देने वाले खुलासे हो रहे हैं. ऐसे में अब स्कूल के गार्ड ने इस हत्याकांड के बारे में कुछ ऐसा बोला है जिसके बाद स्कूल प्रशासन ने उसे नौकरी से ही निकाल दिया है. दरअसल इस बेहद ही चौंकाने वाले खुलासे में रायन स्कूल में गार्ड की नौकरी से निकाले गए शख्स ने बताया है कि बच्चे की हत्या के बाद फर्श पर फैले खून को साफ कराया गया था. जानकारी के लिए बता दें कि इस मामले में शुरु से ही स्कूल प्रशासन पर साक्ष्यों के साथ छेड़खानी करने का आरोप लगता रहा है. ऐसे में यकीनन ही गार्ड ने खुलासे ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि स्कूल प्रशासन ने बच्चे की हत्या के बाद सबूत मिटाने की पूरी कोशिश की थी. एक जानकारी के मुताबिक तो गार्ड के खुलासे के बाद रायन स्कूल प्रशासन ने फिलहाल वहां काम करने वाले सभी गार्डों को नौकरी से निकाल दिया है.