डोकलाम में भारत के साथ समझौता करने पर गुस्साए चीनी सैनिक तो सेना जनरल ने भारत को लेकर कह दी ऐसी बात

8276

डोकलाम विवाद तो सुलझ चुका है लेकिन चीन में कई लोग ऐसे हैं जो अब चीन की सरकार को घेर रहे हैं. इन लोगों में चीनी सैनिक भी शामिल हैं जो डोकलाम में हुए समझौते से नाखुश हैं. वहीँ डोकलाम एपिसोड में भारत के खिलाफ मिलिट्री एक्शन की मांग करने वाले सैनिकों से चीन की सरकार भी इत्तेफाक नहीं रखती और चीनी सरकार अपने सैनिकों की ऐसी सोच से नाराज है.

source

चीन की आर्मी के मेजर जनरल द्वारा एक लेख चीन के अखबार में छापा गया है जिसमें उन्होंने लिखा है कि, भारत के खिलाफ़ टिप्पणी करने वाले लोगों को चीन की रणनीतिक स्थिति की समझ नहीं है. ग्लोबल टाइम्स में रणनीतिकार मेजर जनरल कियाओ लिआंग ने लिखा कि चीन, भारत दोनों प्रतिद्वंदी हैं और सभी प्रतिद्वंदियों को दुश्मन की तरह नहीं देख सकते. भारत चीन का दुश्मन नहीं है.

source

माना जा रहा है कि डोकलाम में चीनी सरकार पर डोकलाम में कार्रवाई न करने की वजह से बहुत दबाव बना हुआ है. ऐसे में चीन के सैनिक कह रहे हैं कि डोकलाम में भारत के खिलाफ जंग छेड़ने की जगह सरकार ने समझौता क्यों किया. जिसके बाद आर्मी के मेजर जनरल का बयान आया है.

source

आपको बता दें कि लगभग ढाई महीने तक डोकलाम में चीन और भारत के बीच विवाद बना हुआ था. जिसका अंत समझौते के रूप में हुआ और चीन भारत की सेनाएं अपनी पुरानी स्थिति पर लौटने लगी हैं. चीन-भारत ने विवादित क्षेत्र से अपनी सेनाओं को एक साथ हटाने का फैसला लिया था.