CM योगी की इस गरज में साफ़ झलक रहा था कि वो किसी को नही छोड़ने वाले

959

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के तो खूब किस्से आपने सुने होंगे, कभी चुस्त प्रशासन के नाम के तो कभी दीपावली के मौके पर 2 लाख से भी ज्यादा दीयों को जलाकर अयोध्या को दीपनगर बनाने के. योगी सरकार पिछली सरकारों से अच्छा कर रही है, ये बात तो साबित हो चुकी है. भ्रष्टाचार के मामले में ये सरकार बेहद सख्त है और इसका ताजा उदाहरण योगी के ही कर्मस्थली गोरखपुर से देखने को मिला. अपनी ही पार्टी की एक महिला महामंत्री को भ्रष्टाचार के मामले में जेल भिजवा कर उन्होंने साबित किया कि शख्स कोई भी हो, किसी को भी गलत काम करने आज़ादी नही है. योगी 23 अक्टूबर को बुन्देलखण्ड पहुंचे तो कमीशनबाजों और भ्रष्टाचार करने वालों पर ख़ूब गरजे.

Source

CM योगी की इस गरज में साफ़ झलक रहा था कि वो किसी को नही छोड़ने वाले. गलत काम करने वालों को तो कतई नही. बता दें कि बुंदेलखंड के हमीरपुर में उन्होंने कहा कि ‘भ्रष्टाचार और कमीशनबाजी का खेल करने वालों को ऐसी सजा देंगे कि पीढ़ियां भूल जाएंगी नौकरी करना.’

Source

अमूमन देखा जाता है कि सरकारें गरीबों और जरूरतमंदों के लिए योजनाएं निकालती हैं लेकिन बीच में कमीशनबाज लोग पैसे खाकर योजना को गड्डे में डाल देते हैं. अमर उजाला की खबर के मुताबिक इन्ही सब विषयों पर बात करते हुए योगी ने लोगों से कहा कि “आप सब किसी भी योजना के लिए किसी को भी कोई पैसे न दें और मैं भरोसा दिलाता हूं कि बुंदेलखंड के विकास के लिए पैसों की कमी रुकावट नही बनेगी.” यही नही उन्होंने योजनाओं में कमिशन खाकर भ्रष्टाचार करने वालों को कहा कि “गरीबों की पेट पर लात मारने वालों को ऐसी सजा देंगे कि उसकी आने वाली पीढ़ियां नौकरी करना भूल जाएंगी.” योगी के इस बयान को सुनकर वहां मौजूद लोगों ने खूब तालियाँ बजायी और समर्थन किया.

Loading...
Loading...